• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

शहरों के बाद अब गांवों को अपना निशाना बना सकता है कोरोना, तेजी से बढ़ सकते हैं मामले

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 19 जनवरी। कोरोना के मामलों में दिल्ली और मुंबई में पिछले कुछ दिनों में गिरावट देखने को मिल रहे हैं। लेकिन स्वास्थ्य एक्सपर्ट का कहना है कि यह कोरोना लहर का अंत नहीं है क्योंकि अभी यह छोटी जगहों प रऔर ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के टेक्निकल एडवायजरी ग्रुप के सदस्य डॉक्टर अनुराग अग्रवाल ने बताया कि नए मामलों में काफी तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिलेगा और इतनी ही तेजी से मामलों में गिरावट भी देखने को मिल सकती है। डॉक्टर अग्रवाल ने कहा कि मेट्रो शहरों में जल्द ही कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट देखने को मिलेगी और पाबंदियों में राहत मिलेगी। लेकिन छोटे क्षेत्रों जैसे उत्तरपूर्व में मामले तेजी से बढ़ सकते हैं लेकिन काफी रफ्तार से ही यहां मामलों में गिरावट भी देखने को मिलेंगे। बता दें कि मुंबई और दिल्ली दोनों ही जगहों पर पिछले हफ्ते तक कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही थी।

corona

अभी निष्कर्ष निकालना जल्दबाजी
अनुराग अग्रवाल ने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि मुंबई में कोरोना के मामलों में गिरावट को पूरे महाराष्ट्र में गिरावट के तौर पर देखा जा सकता है क्योंकि महाराष्ट्र बड़ा राज्या है। दिल्ली में कोरोना का चरम अब जा चुका है, लेकिन संक्रमण फैलने का दौर अभी खत्म नहीं हुआ है। वरिष्ठ महामारी रोग विशेषज्ञ गिरिधारा बाबू ने कहा कि मामलों में गिरावट हो सकती है लेकिन अभी से इस बारे में कहना जल्दबाजी होगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली और मुंबई में पॉजिटिविटी रेट अभी भी ज्यादा है। 14 जनवरी को दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 30 फीसदी था और महाराष्ट्र में यह 22 फीसदी था। अधिक पॉजिटिविटी रेट और से साफ है कि ग्रामीण इलाकों में संक्रमण के मामले बढ़ेंगे। नए मामले उस वक्त और बढ़ेंगे जब पाबंदियों को हटा लिया जाएगा। हालांकि अब कोरोना के मामलों में गिरावट आ रही है लेकिन अभी से कुछ भी निष्कर्ष निकालना जल्दबाजी होगी।

इसे भी पढ़ें- Aparna Yadav: मुलायम की बहू अपर्णा यादव ने क्यों ज्वाइन की BJP, बताए जा रहे ये तीन प्रमुख कारणइसे भी पढ़ें- Aparna Yadav: मुलायम की बहू अपर्णा यादव ने क्यों ज्वाइन की BJP, बताए जा रहे ये तीन प्रमुख कारण

गांवों में टेस्टिंग बढ़े तो संक्रमण के मामले बढ़ेंगे
डॉक्टर गिरिधारा बाबू ने कहा कि अगर ग्रामीण क्षेत्रों में टेस्टिंग को बेहतर किया जाए तो तो पता चलेगा कि यहां मामलों में बढ़ोतरी हुई है,खासकर कि महाराष्ट्र के गांवों में। ऐस मं अगले दो से चार हफ्ते काफी अहम हैं और हमे स्थिति पर नजर रखनी चाहिए। डॉक्टर अग्रवाल न भी कहा कि महामारी का खतरा अभी भी बना हुआ है। अच्छी बात यह है कि लोगों में रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ रही है, ऐस में भविष्य में आने वाली लहर से लोगों को अधिक सुरक्षा मिलेगी। हमे याद रखना चाहिए कि फ्लू वायरस काफी लंबे समय तक हमारे बीच रहा था। संक्रमण की यह प्रकृति होती है कि यह लंबे समय तक अपने असर को बनाए रखता है।

Comments
English summary
Covid wave is not over yet it might go up in rural areal fast.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X