• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Covid-19: इस राज्‍य में सरकार ने प्राथि‍मक स्‍कूल और हॉस्‍टल खोलने की दी परमिशन, जानें डिटेल

|

नई दिल्‍ली। असम सरकार ने दावा किया है कि उनके प्रदेश में कोविड 19 नियंत्रण में है। जिसको देखते हुए असम सरकार ने प्राथमिक स्कूलों को शुरू करने और हॉस्टल खोलने की भी अनुमति दे दी है। छात्रों के माता-पिता से लिखित सहमति के आधार पर कक्षाओं को अटेंड करने की अनुमति दी जाएगी और छात्रावास में रहने वाले छात्रों को कोविड -19 टेस्‍ट के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा।

school

बता दें नवंबर माह में ही असम सरकार ने प्राथमिक विद्यालयों को छोड़कर सभी शिक्षण संस्थानों को कोविड-19 (Covid-19) नियमों का पालन सुनिश्चित करते हुए खोलने का आदेश दे दिया था। प्राथमिक स्‍कूलों के अलावा अन्‍य सभी शिक्षण संस्थान महामारी के कारण सात महीने के बाद खोल दिए गए थे। वहीं अब प्रदेश सरकार ने असम में प्राथमिक स्‍कूल और हॉस्‍टल भी कुछ शर्तों के साथ खोलने की परमीशन दे दी है।

इस तारीख से खुलेंगे स्‍कूल और हॉस्‍टल

स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने सोमवार को कहा कि बालवाड़ी से लेकर कक्षा 6 तक के प्राथमिक स्कूलों में कक्षाएं 1 जनवरी से फिर से शुरू होंगी और आवासीय स्कूलों और कॉलेजों में छात्रावास 15 दिसंबर से सीमित तरीके से शुरू होंगे। उन्‍होंने कहा असम में कोविड -19 स्थिति संतोषजनक और नियंत्रण में है। लेकिन भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों में स्थिति को ध्यान में रखते हुए, हम सतर्क हैं। मंत्री ने कहा एक साप्ताहिक पत्रिका के सर्वेक्षण के अनुसार असम को कोविड -19 प्रबंधन में सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में स्थान दिया है। राज्य में कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, विश्वविद्यालय, पॉलिटेक्निक, निजी शिक्षण संस्थान, सरकारी और निजी प्रशिक्षण और कोचिंग संस्थान सरकारी आदेश के अनुसार नवंबर में ही खुल चुके हैं।

असम में कोरोना रिकवरी दर 98%

बता दें रविवार तक, असम में 981 मौतों के साथ 2,12,617 कोविड -19 मामले दर्ज किए गए थे। वर्तमान में राज्य में 3,350 सक्रिय मामले हैं। रिकवरी दर 98% है जबकि मृत्यु दर 0.46% है। सरमा ने बताया कि नवंबर में सकारात्मक मामलों की संख्या में लगातार कमी आई है, जो महीने के पहले सप्ताह में औसतन 325 मामलों से शुरू होकर आखिरी सप्ताह में रोजाना 158 मामलों तक पहुंच गए हैं।

कोरोना नियंत्रित है

मंत्री ने कहा वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए, हमने 1 जनवरी से कक्षा 6 तक के प्राथमिक स्कूलों को खोलने और आवासीय स्कूलों और कॉलेजों को अंतिम वर्ष के छात्रों को 15 दिसंबर से छात्रावासों में रहने की अनुमति देने का फैसला किया है। हालांकि असम ने कक्षा 7 से और इससे पहले की ऑफ़लाइन कक्षाओं को फिर से शुरू करने की अनुमति दी थी, लेकिन स्कूलों में जूनियर कक्षाएं शुरू नहीं हुई थीं। सरमा ने बताया कि कक्षाएं बहुत संयमित तरीके से शुरू होंगी और अगले कुछ दिनों में विस्तृत एसओपी की घोषणा की जाएगी।

माता-पिता से लिखित सहमति के आधार पर ही मिलेगी अनुमति

छात्रों के माता-पिता से लिखित सहमति के आधार पर कक्षाओं में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी और हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को कोविड-19 परीक्षणों से गुजरने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। उन्‍होंने कहा "हमने बेहतर स्थिति के कारण राज्य में सभी अस्थायी कोविड देखभाल केंद्र (CCCs) को बंद कर दिया है। इस बीच, अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ा दी गई है। अगर आने वाले दिनों में कोविड -19 की स्थिति बिगड़ती है, तो अस्थायी सीसीसी फिर से खोल दिए जाएंगे। गुवाहाटी में एक दर्जन से अधिक सीसीसी संचालित किए जा रहे थे।

कोरोना वैक्‍सीन में इन्‍हें दी जाएगी प्राथमिकता

प्रदेश मंत्री बिस्‍वा ने बताया कि केंद्र ने राज्यों से उन लोगों की चार श्रेणियों पर विवरण तैयार करने को कहा है, जिन्हें पहले वैक्‍सीन लगाया जाता था- 1-डॉक्टर, नर्स, फ्रंट लाइल वर्कर, 2-पुलिस, सेना, अर्ध-सैनिक कर्मी, 3- वरिष्ठ नागरिक और 4- बीमारी से ग्रसित लोग। "प्रारंभिक सर्वेक्षण के आधार पर, असम में लगभग 60 से 70 लाख लोग इन श्रेणियों में लोग हैं। उन्‍होंने कहा जहां तक ​​हम जानते हैं, टीका अगले साल मार्च-अप्रैल के आसपास उपलब्ध होगा।

जानिए कौन सा ऐसा ब्लड ग्रुप है जिसके लोग कम पड़ते हैं बीमार, कोरोना से भी उन्‍हें है कम खतरा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Covid-19 'under control', Assam government gives permission to open elementary schools, hostels
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X