• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मौत की बददुआ देने वाले को अमिताभ बच्चन का जवाब, अगर मैं मर गया तो...

|

मुंबई। 11 जुलाई को कोरोना पॉजिट‍िव निकलने के बाद से बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन नानावटी अस्पताल में भर्ती हैं, हालांकि उनकी हालत में काफी सुधार है लेकिन अभी भी उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं किया गया है, बता दें कि जैसे ही अमिताभ के कोरोना संक्रमित होने की खबर आई थी, उनके फैंस में खलबली मच गई थी, पूरे देश में लोग बच्चन और उनके परिवार के जल्द ठीक होने की दुआ मांगने में लग गए थे, कहीं तो पूजा-पाठ का भी आयोजन हुआ था तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे, जिन्होंने कोरोना की वजह से एक्टर की मौत की दुआ भी मांगी थी और उनका सोशल मीडिया पर मजाक भी बनाया था।

'वो मुझे कहते हैं...उम्मीद करता हूं तुम कोविड से मर जाओ'

'वो मुझे कहते हैं...उम्मीद करता हूं तुम कोविड से मर जाओ'

हालांकि तब बच्चन और उनके परिवार की ओर से इन बातों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई थी लेकिन अब अमिताभ ने अपने हेटर्स को मुंहतोड़ जवाब दिया है, उन्होंने हेटर्स के लिए एक ओपन लेटर लिखा है, जिसका टाइटल है 'I hope you die with this Covid (वो मुझे कहते हैं...उम्मीद करता हूं तुम कोविड से मर जाओ..)', जिसके अंतरगत उन्होंने लिखा है कि 'मिस्टर अनजान...तुमने अपने पिता का नाम भी नहीं लिखा...क्योंकि तुम्हें नहीं पता क‍ि तुम्हारे पिता कौन हैं? दो ही चीज हो सकती है...या तो मैं मर जाऊंगा या फिर जी जाऊंगा' अगर मैं मर जाऊंगा तो तुम किसी सेलिब्रिटी के नाम पर अपनी ट‍िप्पणी या भाषण नहीं लिख पाओगे...तरस आता है...तुम्हें नोट‍िस किए जाने के लिए जो तुमने लिखा उस कारण को जानकर, तुमने तो सीधे अमिताभ बच्चन से पंगा मोल ले लिया'।

यह पढ़ें: Ayodhya Ram Mandir: क्या होता है 'टाइम कैप्सूल', क्यों डाला जाएगा ये राम मंदिर की नींव में?

    Aishwarya Rai & Aaradhya का Corona Test आया Negative, Amitabh Bachchan हुए Emotional |वनइंडिया हिंदी
     '90 प्लस मिलियन फॉलोअर्स को बोल दूंगा मैं'

    '90 प्लस मिलियन फॉलोअर्स को बोल दूंगा मैं'

    एक्टर ने आगे लिखा है कि ईश्वर की दया से अगर मैं जिंदा बचा और जी गया तो तुम्हें तूफान का सामना करना पड़ेगा, सिर्फ मेरे साथ ही नहीं बल्क‍ि वृह्द स्तर पर , 90 प्लस मिलियन फॉलोअर्स से भी...मैंने अभी उन्हें नहीं बताया है...पर अगर मैं बच गया तो जरूर बताऊंगा, और तुम्हें बता दूं कि वे सेना हैं....वे पूरी दुनिया में हैं...पश्च‍िम से लेकर पूर्व तक....उत्तर से लेकर दक्ष‍िण तक...और वे सिर्फ इस पन्ने के EF नहीं हैं...ये विस्तार‍ित पर‍िवार एक पलक झपकते ही विनाशकारी पर‍िवार में तब्दील हो जाएगा...मैं बस इतना कहूंगा- ठोक दो.. सा***.को'।

    'तुम अपने ही इस आग में जल जाओ'

    'तुम अपने ही इस आग में जल जाओ'

    इसके बाद बिग बी ने हेटर्स को एक संदेश भी दिया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि मारीच, अहिरावन , महिषासुर, असुर , उपनाम हो तुम ; हमारा यज्ञ प्रारम्भ होते ही, तुम राक्षसों की तरह तड़पोगे , जान लो इतना की अब तुम ही केवल समाज की आवाज़ ना हो ; चरित्र हीन, अविश्वासी , श्रद्धा हीन , लीचड़ तुम हो ; जलो गलो पिघलो , बेशर्म , बेहया , निर्लज्ज, समाज कलंकी ...

    May you burn in your own stew !!( 'तुम अपने ही इस आग में जल जाओ')

    सोशल मीडिया पर वायरल हुआ अमिताभ का लेटर

    सोशल मीडिया पर वायरल हुआ अमिताभ का लेटर

    आम तौर पर सोशल मीडिया पर काफी सकारात्मक बातें करने वाले अमिताभ बच्चन ने पहली बार हेटर्स के लिए इस तरह की बातें लिखी हैं, एक्टर का ये ओपन लेटर इस वक्त सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, मालूम हो कि 11 जुलाई को अमिताभ के साथ उनके बेटे अभिषेक बच्चन भी कोरोना संक्रमित निकले थे,दोनों को नानावटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तो वहीं इसके बाद बहू ऐश्वर्या और पोती आराध्या भी संक्रमित पाए गए थे जिन्हें भी नानावटी अस्पताल में ही भर्ती कराया गया था लेकिन कल ऐश्वर्या और आराध्या कोरोना निगेट‍िव होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो गईं, जिसकी जानकारी अभिषेक ने ट्ववीट के जरिए दी थी।

    'प्रभु तेरी कृपा अपार ,अपरम्पार'

    'प्रभु तेरी कृपा अपार ,अपरम्पार'

    ऐश्वर्या और आराध्या के डिस्चार्ज होने पर भी अमिताभ ने एक भावकु पोस्ट लिखी थी जिसमें उन्होंने कहा था कि अपनी छोटी बिटिया , और बहुरानी को ,अस्पताल से मुक्ति मिलने पर ; मैं रोक ना पाया अपने आंसू, प्रभु तेरी कृपा अपार , अपरम्पार।

    यह पढ़ें: Covid 19: अमिताभ ने शेयर की बाबूजी की कविता, कहा- 'मैं हूं उनके साथ, खड़ी जो सीधी रखते अपनी रीढ़'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Amitabh Bachchan pens an open letter to his haters; said May you burn in your own stew, here is his letter, please have a look.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X