• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मशहूर मेडिकल जरनल ‘Lancet’ ने कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के प्रयासों की तारीफ

|

नई दिल्‍ली। भारत में अब तक 55 लाख लोग कोरोना महामारी के शिकार हो चुके हैं। कोरोना के संक्रमण को रोकने और संक्रमितों के इलाज के लिए भारत सरकार एक के बाद एक प्रयास कर रही है। वहीं अब कोरोना से निपटने के लिए भारत के द्वारा किए गए प्रयासों की प्रसंशा बिट्रेन की मशहूर पत्रिका लैंसेट ने भी की है। ब्रिटिश जरनल Lancet ने कोरोना के प्रति देश के कड़े रुख और विज्ञान पर निर्भरता ना दिखाने पर प्रशंसा की है। हालांकि इगलैंड की मशहूर मेडिकल पत्रिका ने कहा है कि भारत में कोरोना की स्थिति भयावह है और दिनों-दिन मामले बढ़ते जा रहे हैं।

covid

Lancet ने कहा है कि भारत स्पष्ट रूप से "खतरनाक अवधि" का सामना कर रहा है, लेकिन अपने उपायों से इस पर काबू पाने में काफी हद तक कामयाब हो रहा है। लैंसेट ने आकलन किया है कि भारत ने कोविड -19 स्थिति को कैसे संभाला और इसकी समीक्षा की। पत्रिका ने "भारत में कोविद -19: झूठी आशावाद के खतरे" शीर्षक के अपने संपादकीय में, यह कहा गया कि भारत स्पष्ट रूप से एक "खतरनाक अवधि" का सामना कर रहा है, हालांकि देश ने कई मामलों में, विशेष रूप से इतने बड़े और विविधता वाला राष्‍ट्र होने के बावजूदज अच्छी प्रतिक्रिया दी है।

वैक्सीन विकसित करने और निर्माण करने के प्रयासों में भी भारत सबसे आगे रहा है

मेडिकल जरनल ने कहा, "वैक्सीन विकसित करने और निर्माण करने के प्रयासों में भी भारत सबसे आगे रहा है, दोनों ही घरेलू वैक्सीन उम्मीदवारों और निर्माताओं जैसे कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विकसित वैक्सीन उम्मीदवारों के लिए उत्पादन क्षमता तैयार की है।" इसमें कहा गया कि "तेजी से बढ़ते मामले की संख्या, प्रतिबंधों की निरंतर छूट के साथ, झूठी आशावाद के साथ घिनौनापन का माहौल पैदा कर रहा है जो गैर-फार्मास्युटिकल हस्तक्षेपों जैसे मास्क और शारीरिक गड़बड़ी के प्रभावी उपयोग को कमजोर करता है।"

भारत के इन प्रयासों की तारीफ की

जरनल ने लिखा कोरोना वायरस के प्रारंभिक दौर में भारत में तालाबंदी, जिसकी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने प्रशंसा की थी। इसके अलावा पूलिंग परीक्षण को रोल आउट करना, जहां एक आरटी-पीसीआर परीक्षण किट का उपयोग करके कई स्वाब नमूनों का परीक्षण किया जाता है। यदि पूल नकारात्मक परीक्षण करता है, तो पूरे समूह को नकारात्मक कहा जा सकता है। यदि पूल सकारात्मक परीक्षण करता है, तो कम से कम एक नमूना सकारात्मक है। इसके अलावा वेंटिलेटर जैसे जरुरी उपकरण तक पहुंच सहित मरीज की देखभाल के लिए चिकित्‍सीय प्रावधान बढ़ाना।

भारत के आशावादी रवैये की प्रशंसा की

इसके साथ ही पत्रिका ने लिखा कि इस निराशा भरे माहौल में आशावाद का वातावरण, जो सामाजिक भेद, महत्व का उपयोग आदि के महत्व को कम कर रहा है। मैगजीन ने लिखा पर्याप्‍त सबूत न होने के बावजूद हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के साथ कोविड -19 उपचार का समर्थन आईसीएमआर ने किया। कोरोना महामारी में प्रवासी संकट सहित आर्थिक मंदी का समानांतर संकट झेल रहा इसके बावजूद भारत में वर्तमान स्थिति को बहुत अधिक सकारात्मक स्पिन के साथ प्रस्तुत करना।

बारामूला, बदरीनाथ और रोहतांग की पहाड़ियों पर हुई सीजन की पहली बर्फबारी, मौसम हुआ सर्द

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Corona Virus,: Lancet praises India’s early lockdown, pool testing and vaccine development initiatives
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X