• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'उत्तर-दक्षिण' राजनीति पर चौतरफा घिरे राहुल गांधी, दो समूहों में बंटे कांग्रेस नेता, जानें किसने क्या कहा?

|

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और मौजूदा सांसद राहुल गांधी फिर से अपने बयान को लेकर विवादों में हैं। राहुल गांधी उत्तर भारत और दक्षिण भारत की राजनीति की तुलना कर चौतरफा घिरते नजर आ रहे हैं। राहुल गांधी के बयान पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) तो हमलावर है ही लेकिन इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी में भी दो विचार देखने को मिल रहे हैं। केरल में अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर गए राहुल गांधी के बयान को लेकर कांग्रेस के नेता दो समूह में बंटते दिखाई दे रहे हैं। राहुल गांधी के करीबी नेता तो उनके इस बयान का खुलकर पक्ष ले रहे हैं। वहीं कांग्रेस के वो नेता, जिन्होंने पार्टी में सुधारों के लिए सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, उन्होंने कहा है कि राहुल गांधी अपने बयान के लिए खुद ही जिम्मेदार हैं और वो खुद उत्तर बनाम दक्षिण के अपने बयान को स्पष्ट कर सकते हैं।

Rahul Gandhi
    Kerala: Rahul Gandhi के 'South-North' वाले बयान पर सियासी बवाल,सुनिए किसने क्या कहा | वनइंडिया हिंदी

    क्या बोले कपिल सिब्बल और आनंद शर्मा?

    न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि यह बीजेपी है, जो देश को बांटने का काम करती है। लेकिन राहुल गांधी ने जो बयान दिया है, वही इस बारे में अपना स्पष्टीकरण दे सकते हैं कि उन्होंने किस संदर्भ में यह बात कही है।

    राज्यसभा में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने कहा है, ''कांग्रेस के पास हमेशा से उत्तर भारत से महान नेता रहे हैं। जिसमें संजय गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी, कैप्टन सतीश शर्मा से लेकर राहुल गांधी तक का नाम शामिल है। इन नेताओं को अमेठी से चुनने के लिए पार्टी वहां की जनता की भी आभारी है। लेकिन राहुल गांधी ने अपने किस अनुभव के आधार पर ये तो वो खुद ही बता सकते हैं। हालांकि मुझे राहुल गांधी के इस बयान में किसी क्षेत्र के अपमान की बात नहीं दिखाई देती है। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने हमेशा से देश को एक समझा है। कांग्रेस पार्टी ने कभी भी देश को क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर विभाजित करने की कोशिश नहीं की है।''

    वहीं कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा है कि राहुल गांधी का बयान और उनका अवलोकन बीजेपी की तरफ से विकसित की गई राजनीतिक संस्कृति के लिए है।

    राहुल गांधी ने क्या दिया था बयान?

    सांसद राहुल गांधी ने अपने वायनाड के दौरे पर मंगलवार (23 फरवरी) को तिरुवनंतपुरम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, '' पिछले 15 साल मैं उत्तर भारत से सांसद था। वहां मैंने एक दूसरी तरह की राजनीति का सामना किया। केरल आने मेरे लिए एक ताजगी भरा एहसास रहा है क्योंकि इधर के लोग मुद्दों की राजनीति करना जानते हैं। जो सिर्फ सतही नहीं है। यहां के लोग मुद्दों की तह तक जाते हैं।''

    ये भी पढ़ें- सरदार पटेल स्टेडियम का नाम बदले जाने पर राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर कसा तंज

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    congress leaders in two groups on Rahul Gandhi north south politics controversial comment
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X