• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मिलिए कांग्रेस की इस महिला नेता से, MP उपचुनाव में बड़े नेताओं से ज्यादा जुटा रही भीड़

|

भोपाल। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा पूरी ताकत झोंक रहे हैं। भाजपा को जहां शिवराज सिंह चौहान के साथ ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर समेत कई नेताओं का साथ मिल रहा है वहीं कांग्रेस के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ अकेले मोर्चा संभाल रहे हैं। लेकिन अब चुनाव प्रचार के दौर में लग रहा है कमलनाथ (Kamal Nath) का साथ देने के लिए संजू जाटव (Sanju Jatav) के रूप में कांग्रेस को एक और स्टार प्रचारक मिल गया है।

Sanju Jatav

पार्टी की नेता संजू जाटव ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में प्रचार कर रही हैं और उनकी सभाओं में खूब भीड़ उमड़ रही है। प्रत्याशी के बीच भी संजू जाटव की भारी डिमांड है।

महिलाओं और युवाओं में अपील

राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएट संजू यादव उस जाटव समुदाय से आती हैं वह ग्वालियर-चंबल क्षेत्र की कई सीटों पर अच्छी संख्या में है। युवाओं में संजू जाटव की अपील को देखते हुए भी कांग्रेस पार्टी उन्हें जगह-जगह प्रचार के लिए भेज रही है। साथ ही संजू जाटव महिलाओं से भी कनेक्ट कर पा रही हैं। संजू यादव को सुनने के लिए उनकी सभाओं में बड़ी संख्या में महिलाएं भी पहुंच रही हैं।

संजू जाटव ने राजनीति की शुरुआत बीएसपी से की थी और वे जिला पंचायत सदस्य चुनी गई थीं। बाद में वे बीजेपी में शामिल हो गईं और इस दौरान भिंड की जिला पंचायत अध्यक्ष चुनी गईं। इसके बाद संजू जाटव ने गोहद विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दीं लेकिन इसी दौरान भाजपा से उनके रिश्ते बिगड़ गए।

बीजेपी छोड़कर ज्वाइन की कांग्रेस

दरअसर 2017 में आटेर विधानसभा के उपचुनाव के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान प्रचार करने पहुंचे थे जहां संजू के पति गजराज जाटव ने शिवराज सिंह चौहान ने मिलने की कोशिश की। इस दौरान गजराज की सीएम के सुरक्षाकर्मियों से उलझ गए। इस घटना के बाद गजराज भीम सेना की रैलियों में सीधे अगड़ी जातियों के खिलाफ खुलकर बोलने लगे। आखिरकार बीजेपी ने संजू जाटव को अविश्वास प्रस्ताव लाकर संजू जाटव को जिला पंचायत अध्यक्ष पद से हटा दिया।

पद से हटाए जाने के बाद संजू जाटव ने बीजेपी से इस्तीफा देकर कांग्रेस की सदस्यता ले ली। गजराज को 2017 में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार भी किया गया था।

कांग्रेस के लिए कर रहीं प्रचार

वहीं कांग्रेस ने भी संजू को गोहद से टिकट नहीं दिया लेकिन संजू फिर भी कांग्रेस के लिए पूरी ताकत से प्रचार कर रही हैं। इस सवाल पर संजू कहती हैं कि मैं भी टिकट की इच्छा रखती थी लेकिन मैं ये भी बताना चाहती हूं कि हर किसी को पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करना चाहिए। जब मैं पार्टी में शामिल हुई थी कांग्रेस ने मुझे टिकट का वादा नहीं किया था। हमें सरकार बनाने के लिए काफी विधायकों की जरूरत है और एक या दो के जीतने से काम नहीं चलने वाला है।

संजू जाटव की सभाओं में लगातार आ रही भीड़ के चलते कांग्रेस पार्टी उन्हें अधिक जगहों पर भेजने की कोशिश कर रही है। हालांकि अब चुनाव होने में ज्यादा दिन नहीं रह गया है फिर भी संजू की भी कोशिश है कि जो भी समय बचा है उसमें वह ग्वालियर चंबल क्षेत्र की अधिक से अधिक सीटों में पर पहुंचकर पार्टी के पक्ष में माहौल बना सकें। फिलहाल तो उन्हें सुनने आ रही भीड़ अगर वोट में बदलती है तो बीजेपी की मुश्किल बढ़ सकती है।

MP: ब्यावरा में भाजपा के लिए कठिन लड़ाई, एक मिथक ने बढ़ाई मुश्किल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
congress leader sanju Jatav popular in youth and women in mp bypoll
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X