• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

छत्तीसगढ़: कांग्रेस को नहीं सताएगी EVM की चिंता, अब ऐसे की जा रही निगरानी

|

रायपुर। छत्तीसगढ़ चुनाव हो जाने के बाद इस बार स्ट्रांग रूम की निगरानी करने के लिए प्रत्याशी एवं एजेंटों को स्ट्रांग रूम तक जाने की जरूरत नहीं है। वे घर बैठे इसकी निगरानी कर सकते हैं। इसके लिए प्रत्याशियों को एक स्पेशल ऐप की सुविधा दी गई है। प्रत्याशी और एजेंट अपने मोबाइल पर ऐप डाउनलोड कर स्ट्रांग रूम में लगे सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से वहां की स्थिति देख सकते हैं। कांग्रेस को ईवीएम में गडबड़ी की चिंता सता रही है ऐसे मे इस ऐप से उन्हें राहत मिली है।

congress candidates staying outside evm strong room in chhattisgarh

लेकिन फिर भी कांग्रेस प्रत्याशी स्ट्रांग रूम के बाहर तंबू लगाकर ईवीएम की निगरानी में लगे हुए हैं। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने ईवीएम हैक होने की आशंका जताते हुए उसकी निगरानी के लिए निर्देश दिए थे। इस निर्देश के बाद कोंड़ागांव और केशकाल विधानसभा प्रत्याशी स्ट्रांग रूम के बाहर तंबू लगाकर बैठ हुए हैं। अब तक एजेंट स्ट्रांग रूम के आसपास 24 घंटे निगरानी करते थे। इसके लिए रिटर्निंग अधिकारी से नियमानुसार अनुमति लेना आवश्यक है। अभी यह सुविधा प्रत्याशी और एजेंट के अलावा रिटर्निंग अधिकारी और ऑब्जर्वर को ही मिलेगी।

एजेंट स्ट्रांग रूम के सामने बनाए गए कक्ष में अब भी मौजूद रहकर निगरानी कर सकते हैं। इसके लिए रिटर्निंग अधिकारी की अनुमति लेनी होगी। रायपुर जिले की सातों विधानसभा सीटों के प्रत्याशियों ने कक्ष में रहकर स्ट्रांग रूम की निगरानी की अनुमति मांगी है। रायपुर में केवल यह सुविधा रिटर्निंग अधिकारी के पास ही है। इस ऐप को डाउनलोड करने के सिस्टम की जानकारी रिटर्निंग अधिकारी के पास गोपनीय है।

विवेक तिवारी हत्याकांड : अंतिम जांच के बाद आरोपी संदीप को मिल सकती है क्लीन चिट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
congress candidates staying outside evm strong room in chhattisgarh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X