• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

CDS नियुक्ति के बाद कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछा- किसके पास है ज्यादा पावर, रक्षा मंत्री या बिपिन रावत

|

नई दिल्ली। पूर्व सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के रूप में देश को अपना पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) मिल गया है। बिपिन रावत को अमेरिका सहित कई देशों से बधाई संदेश मिल रहे हैं। बता दें कि 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों सेनाओं के प्रमुख सीडीएस नियुक्त करने की बात कही थी। बिपिन रावत के सीडीएस बनने के बाद कांग्रेस ने इसका विरोध किया है और कहा कि सरकार गलत कदम उठा रही है।

    Bipin Rawat को CDS बनाने पर Congress Party ने उठाए सवाल | वनइंडिया हिंदी
    मनीष तिवारी ने सरकार से पूछे तीखे सवाल

    मनीष तिवारी ने सरकार से पूछे तीखे सवाल

    गौरतलब है कि मंगलवार के जनरल बिपिन रावत ने सेना प्रमुख के पद से सेवानिवृत होने के बाद पहले सीडीएस का पदभार संभाला। देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी उन्हें इस मौके पर बधाई संदेश मिल रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस ने सीडीएस पद का विरोध करते हुए मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि वह गलत कदम उठा रही है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर इसका विरोध जताया है। मनीष ने अपने ट्वीट के माध्यम से पूछा कि रक्षामंत्री के प्रधान सैन्य सलाहकार को नामित करने के बाद तीनों सेना प्रमुखों (जल, थल, वायु) कि तरफ से दिए जाने वाले सुझावों का क्या होगा?

    किसके पास होंगी ज्यादा शक्तियां?

    कांग्रेस नेता ने आगे पूछा कि क्या सरकार सीडीएस की सलाह को सेना प्रमुखों की सलाह से ज्यादा महत्व देगी? क्या तीनों सेना प्रमुख रक्षामंत्री को रिपोर्ट सीडीएस के माध्यम से देंगे? कांग्रेस नेता मनीष तिवरी ने पूछा कि क्या सीडीएस की शक्तियां रक्षामंत्री से ज्यादा होंगी। क्या रक्षा सचिव रक्षा मंत्रालय के प्रशासनिक प्रमुख बने रहेंगे? इसके अलावा सैन्य मामलों के लिए बनाए गए विभाग क्या काम करेंगे?

    कांग्रेस नेता आगे लिखते हैं कि क्या सीडीएस तीनों सैन्य संगठनों और प्रतिष्ठानों के ऊपर रहेगा? सरकार बताए कि क्या सिविल सैन्य संबंधों पर सीडीएस का अधिकार रहेगा?

    नए सेना प्रमुख बने जनरल मुकुंद नरवाणे

    नए सेना प्रमुख बने जनरल मुकुंद नरवाणे

    मनीष तिवारी ने अपने इन्ही तीखे सवालों से मोदी सरकार को घेरा है। बता दें कि जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे देश के नए सेना प्रमुख हैं। मंगलवार को साउथ ब्‍लॉक में उन्‍होंने पूर्व सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत से देश के 28वें सेना प्रमुख का जिम्‍मा संभाला। जनरल नरवाणे, सेना प्रमुख बनने से पहले उप-सेना प्रमुख के तौर पर अपनी जिम्‍मेदारियां दे रहे थे। जनरल नरवाणे को चीन से जुड़े मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है। जनरल नरवाणे के नाम को लेकर पिछले कई माह से कयास लगाए जा रहे थे। नरवाणे करीब तीन तीन वर्षों तक इस पद पर रहेंगे।

    जनरल बिपिन रावत होंगे देश के पहले CDS,सरकार ने किया औपचारिक ऐलान, 1 जनवरी से संभालेंगे कार्यभार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Congress asked Modi government Who has more power Defense Minister or Bipin Rawat
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X