• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली में भजन बजाने को लेकर दो गुटों में खूनी झड़प, एक को उतारा मौत के घाट

|

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में मंगलवार रात दो गुटों में विवाद हो गया। ये विवाद भगवान के भजन को लेकर था। कुछ ही देर में दोनों पक्षों में कहासुनी इतनी बढ़ गई कि एक गुट ने दूसरे परिवार के तीन भइयों पर जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें से एक की मौत हो गई, जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हैं। फिलहाल दिल्ली पुलिस ने आरोपी और उसके बेटों को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।

clash

जानकारी के मुताबिक मंगलवार रात एक परिवार के लोग डीजे पर माता रानी के भजन बजा रहे थे। तभी बगल में रहने वाला अब्दुल सत्तार आया और उन्होंने डीजे की आवाज को लेकर आपत्ति जताई। भजन भजा रहे सुशील से सत्तार की कहासुनी हो रही थी कि उनकी पत्नी भी वहां पर पहुंच गईं। उन्होंने सोचा कि बातचीत कर विवाद को खत्म किया जाए, लेकिन अब्दुल सत्तार ने विवाद को और बढ़ा दिया। सुशील के परिजनों के मुताबिक कुछ ही देर बाद अब्दुल सत्तार कई लोगों को लेकर वहां पहुंचा और उसने दोनों के साथ बदसलूकी शुरू कर दी। बाद में सुशील के परिवार वालों को भी ये खबर लगी और वो भड़क गए। इसके बाद सुशील के भाई सुनील और अनिल भी मौके पर पहुंचे। जिस पर अब्दुल सत्तार ने उन पर चाकुओं से हमला कर दिया। जिसमें तीनों भाई गंभीर रूप से घायल हो गए।

बिहारः मुंगेर में दुर्गा पूजा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हिंसक झड़प, एक की मौत और कई पुलिसकर्मी घायल

घटना के बाद आनन-फानन में सभी को पास के अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने सुशील को मृत घोषित कर दिया, जबकि अनिल और सुनील की हालत गंभीर बनी हुई है। मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने सत्तार और तीन बेटों को गिरफ्तार कर लिया। सुशील के परिजनों के मुताबिक वो पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। आरोपी उनके तीन लड़कों को मारने के बाद हथियार लहराते हुए इलाके से गए। पुलिस ने सिर्फ सत्तार और उसके लड़कों को गिरफ्तार किया है। मामले में आरोपी चांद, सलीम, हसीन अभी भी फरार हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
clash between two family in delhi over playing Devotional songs
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X