• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महामारी चिकित्सा आपूर्ति में भी है चीन का नियंत्रण, मई तक 7060 करोड़ मास्क का किया निर्यात

|

नई दिल्ली। कोरोनोवायरस से निपटने के लिए मास्क, गाउन, टेस्ट किट और अन्य फ्रंट-लाइन सुरक्षा सामग्री की आपूर्ति के बारे में चीन के नियंत्रण से चिंतित दुनिया भर के देशों ने भविष्य के महामारी और प्रकोप से निपटने के लिए अपने कारखाने स्थापित किए हैं, लेकिन यह दूसरे देशों के लिए तब मुश्किल होता जाता है जब प्रकोप कम होने लगता है और ऐसे में उन्हें कारखानों को जीवित रखने के लिए संघर्ष करना पड़ जाता है।

china

गौरतलब है चीन ने आने वाले वर्षों के लिए सुरक्षात्मक और चिकित्सा आपूर्ति के लिए बाजार पर हावी होने के लिए इसकी नींव बहुत पहले रख दी है और इसके लिए कारखानों के मालिकों को चीनी सरकार के सौजन्य से सस्ती जमीन और फैक्टरी चलाने के लिए ऋण और सब्सिडी भी भरपूर दिया जाता हैं।

china

गलवान घाटीः कभी भी पलट सकता है चीन, जानिए कब-कब चीन ने पलटकर किया है विश्वासघात?

चीनी अस्पतालों को अक्सर स्थानीय स्तर पर चिकित्सा सामग्री खरीदने के लिए कहा जाता है, जिससे चीन के आपूर्तिकर्ताओं को एक विशाल और कैप्टिव बाजार मिल जाता है, क्योंकि एक बार टीका विकसित होने पर मांग में गिरावट आने पर फैक्ट्रियां बंद हो जाएंगी।

china

बावजूद इसके चीनी कंपनियों के अब तक की सबसे कम लागत और अगले वैश्विक प्रकोप के लिए सबसे अच्छी स्थिति होने की संभावना है। वैश्विक औद्योगिक मशीन में चीन की पकड़ महत्वपूर्ण बाजारों पर हावी होने के लिए रामबाण कहा जा सकता है।

व्हाइट हाउस का ऐलान- चीन के साथ संघर्ष में भारत के साथ होगी अमेरिकी सेना

पीटरसन इंस्टीट्यूट फॉर इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स के अनुमान के मुताबिक महामारी से पूर्व ही चीन ने संयुक्त दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में अधिक रेस्पिरेटर, सर्जिकल मास्क, मेडिकल चश्मे और सुरक्षात्मक कपड़ों का निर्यात कर दिया था। बीजिंग में सामने आए कोरोनावायरस प्रतिक्रिया ने उसके प्रभुत्व को और बढ़ाया है।

china

चीन ने अकेले फरवरी में मास्क उत्पादन में लगभग 12 गुना वृद्धि की। नॉर्थफील्ड, इलिनोइस में एक नामी अनुसंधान और परामर्श फर्म चलाने वाले बॉब मैकलवाइन ने बताया कि मास्क के लिए इस्तेमाल होने वाले विशेष कपड़े से चीन रोजाना 150 टन प्रति दिन मास्क बना सकता है। यानी चीन प्रकोप से पहले 5 गुना मास्क बना लिया था और अमेरिकी कंपनियों के उत्पादन के 15 गुना उत्पादन के बाद भी चीन ने वसंत में उत्पादन में वृद्धि की।

china

चीन ने अब नेपाल के राष्ट्रपति भवन में की घुसपैठ, काठमांडू में सड़कों पर उतरे लोग

अमेरिकी कंपनियां कपड़े निर्माण में बड़ा निवेश करने से हिचक रही हैं, क्योंकि उन्हें चिंता है कि मास्क की मांग अस्थायी होगी, लेकिन टेक्सास को गुरुवार को वृहद स्तर पर मास्क की आवश्यकता थी, क्योंकि वहां के अधिकांश निवासी सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनते हैं और हाल के दिनों में मास्क जीवन का एक व्यापक हिस्सा बन गया है। मैकलवाइन ने कहा कि यह मान लेना एक बहुत बड़ी गलती है कि मास्क का बाजार गायब हो जाएगा।

china

चीन ने कोरोना की संभावित वैक्सीन SinoVac के थर्ड स्‍टेज का ट्रायल शुरू किया

विदेशी मामलों के चीनी उप मंत्री मा झाओक्सू ने बताया कि मार्च से मई तक चीन ने 70.6 बिलियन मास्क का निर्यात किया, जबकि पूरे विश्व में पिछले साल लगभग 20 बिलियन मास्क का उत्पादन हुआ, जिसमें चीन का अकेले आधा हिस्सा था। हालांकि अन्य देश अब मास्क में आत्मनिर्भरता चाहते हैं। महामारी की शुरूआत के समय में चीन ने कभी-कभी यह तय किया कि किसे महत्वपूर्ण आपूर्ति मिले और बदले में उससे सार्वजनिक धन्यवाद की भी मांग की।

china

चीन पर फिर बरसे ट्रंप, कहा-अमेरिका समेत पूरी दुनिया को बड़ा नुकसान पहुंचाया चीन ने

वर्ष 2005 में SARS के प्रकोप के बाद, जिसमें चीन में 350 लोगों की जान ले ली थी। चीनी विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने घोषणा की कि उसने चीनी चेहरे फिट होने वाले बेहतर सांस लेने वाले मास्क विकसित किए। वर्ष 2010 में सरकार की पंचवर्षीय आर्थिक योजना में बेसिक उपकरण और चिकित्सा सामग्री विकसित करने पर ध्यान केंद्रित करने का आदेश दिया गया, जिनकी मांग उच्च होती है और मुख्य रूप से आयात के लिए व्यापक रूप से लोग कतार में होते हैं।

china

चीन ने न्यूक्लिक एसिड टेस्ट किट के महत्व को भी रेखांकित किया है, जो कोरोनावायरस संक्रमण का पता लगा सकता है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने वर्ष 2017 में किट को लक्षित विकास उद्योग के रूप में पहचान की थी।

चीन से तनाव के बीच लद्दाख के लिए 20,000 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट, तेजी से पूरा करने के निर्देश

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Countries around the world, concerned with China's control over the supply of masks, gowns, test kits, and other front-line safety supplies to combat coronovirus, have set up their factories to deal with future epidemics and outbreaks, but this It becomes difficult for other countries when the outbreak starts and they have to struggle to keep the factories alive.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X