• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Children's Day 2019: 'बाल दिवस' पर दे सकते हैं इस तरह की Speech

|

नई दिल्ली। 14 नवंबर का दिन भारत के लिए काफी क्योंकि इस दिन आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री बने पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन हैं, पूरे देश में यह दिन 'बाल दिवस' के रूप में मनाया जाता है। भारत की आजादी में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने वाले नेहरू का पूरा जीवन ही प्रेरणा से भरा रहा। उन्हें 'आधुनिक भारत का रचयिता' यूं ही नहीं कहा जाता था। उन्होंने अपना पूरा जीवन नए भारत के निर्माण में लगा दिया। वो अपनी लेखनी के लिए भी जाने जाते हैं।

 'बाल दिवस' पर होते हैं कई कार्यक्रम

'बाल दिवस' पर होते हैं कई कार्यक्रम

इस दिन स्कूलों में बच्चों के लिए कई कार्यक्रम होते हैं जैसे निबंध प्रतियोगिता, भाषण प्रतियोगिता, वाद-विवाद प्रतियोगिता, जिसमें बच्चे बढ़चढ़कर हिस्सा लेते हैं..

आइए आज आपको बताते हैं कि बाल दिवस के लिए आप भाषण कैसे तैयार कर सकते हैं...

बच्चों को कठिन परिश्रम के लिए प्रेरित करें...

बच्चों को कठिन परिश्रम के लिए प्रेरित करें...

आदरणीय प्रधानाचार्य, समस्त शिक्षणगण एवं मेरे प्रिय साथियों,

आज 'बाल दिवस' है और मैं आप सभी को इस दिन की शुभकामनाएं देता/देती हूं, देश के पहले प्रधानमंत्री नेहरू की जयंती के मौके पर हर साल 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है, पंडित नेहरू हमेशा बच्चों के बीच में घिरे रहते थे, पंडित नेहरू बहुत ही प्रेरणादायक और प्रेरित प्रकृति के थे, वह हमेशा बच्चों को कठिन परिश्रम और बहादुरी के कार्य करने के लिए प्रेरित करते थे इसलिए बच्चे प्यार से उन्हें चाचा नेहरू कहते थे। उनकी मत्यु के बाद से, उनका जन्मदिन पूरे भारत में बाल दिवस के रुप में मनाया जाने लगा। चाचा नेहरू मानते ही बच्चे ही देश का सुखद भविष्य लिख सकते हैं इसलिए बच्चों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है और उनका सोचना सही भी था, हमारे देश में अभी भी काफी सारे बच्चे बाल मजदूरी में फंसे हैं और कुछ लोग अपने थोड़े से लाभ के लिए उनका शोषण कर रहे हैं, वास्तव में बाल दिवस का अर्थ पूर्ण रुप से तब तक सार्थक नहीं हो सकता, जब तक हमारे देश में हर बच्चे को उसके मौलिक बाल अधिकारों की प्राप्ति ना हो जाए, हर बच्चे को पेट भर भोजन और शिक्षा ना मिल पाए, जिस दिन देश के सारे बच्चे पढ़लिख जाएंगे, उसी दिन हमारा देश पूरी तरह से मजबूत हो जाएगा और बन जाएगा वो भारत, जिसका सपना चाचा नेहरू और बापू ने देखा था।

धन्यवाद, जय हिंद, जय भारत।

यह पढ़ें:Children's Day 2019: इन संदेशों के जरिए दीजिए 'बाल दिवस' की शुभकामनाएंयह पढ़ें:Children's Day 2019: इन संदेशों के जरिए दीजिए 'बाल दिवस' की शुभकामनाएं

चरित्र निर्माण जरूरी है

चरित्र निर्माण जरूरी है

आदरणीय प्रधानाचार्य, समस्त शिक्षणगण एवं मेरे प्रिय साथियों,

आज 'बाल दिवस' है और मैं आप सभी को इस दिन की शुभकामनाएं देता/देती हूं, देश के पहले प्रधानमंत्री नेहरू की जयंती के मौके पर हर साल 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है, पंडित नेहरू हमेशा बच्चों के बीच में घिरे रहते थे, पंडित नेहरू बहुत ही प्रेरणादायक और प्रेरित प्रकृति के थे, वह हमेशा बच्चों को कठिन परिश्रम और बहादुरी के कार्य करने के लिए प्रेरित करते थे , उनका मानना था कि बच्चे ही भविष्य के नागरिक हैं इसलिए एक अच्छा नागरिक बनाने के लिए बच्चों पर ध्यान देना काफी जरूरी होता है। अगर हम बच्चों में शुरू से ही अच्छी चीजों की आदत डालेंगे तो उन्हें आगे अच्छा नागरिक बनने में आसानी होगी। भारत में बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा पर खास जोर देने की जरुरत है क्योंकि आज के बच्चे ही कल देश को चलाएंगे। राष्ट्र निर्माण के लिए बच्चों का बेहतर चरित्र निर्माण जरूरी है।

धन्यवाद, जय हिंद, जय भारत।

यह पढ़ें: Children's Day: जानिए क्‍या है बाल दिवस का महत्‍व?यह पढ़ें: Children's Day: जानिए क्‍या है बाल दिवस का महत्‍व?

English summary
Here is a sample speech and some speech idea for your Kids To be a star on the children’s day celebration.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X