• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चुनावों की तरीखों को लेकर लग रहे आरोपों पर मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सतीश अरोड़ा बोले- सभी को खुश नहीं कर पाएंगे

|

नई दिल्‍ली: देश के पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा शुक्रवार को चुनाव आयोग ने कर दी है। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल, असम और पुडुचेरी में आज चुनावी शंखनाद हो चुका है। चुनाव आयोग के मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तारीखों का ऐलान किया। पश्चिम बंगाल में 8 चरण में मतदान होगा तो असम में तीन चरणों में वोटिंग कराई जाएगी। चुनावों की तरीखों की घोषणा होते ही पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बंगाल में 8 चरण में चुनाव करवाए जाने पर चुनाव आयोग पर सवाल उठाए और कहा कि चुनाव आयोग ने बीजेपी के हिसाब से तारीखों का ऐलान किया है। इसके साथ ही टीएमसी समेत अन्य विपक्षी दलों ने अभी से ही चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। जिस पर मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को कहा कि वह सभी को खुश नहीं कर पाएंगे।

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त

इस पर विस्तार से बात करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को कहा चुनाव आयोग के अधिकारियों द्वारा किए गए राज्य के दौरे के साथ विधानसभा चुनावों की तैयारी बहुत पहले शुरू हो गई थी। उन्‍होंने कहा ये चुनाव उनका आखिरी होगा क्योंकि उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है। उन्‍होंने कहा वह सभी को खुश नहीं कर पाएंगे।अरोड़ा ने कहा ''हम कुछ राज्यों में शुक्रवार को मतदान से बचने का प्रयास करते हैं। हमने बिहू और अन्य उत्सवों का ध्यान रखा है लेकिन हम सभी को खुश नहीं कर सकते हैं। "

चुनाव की तरीखों से पहले चुनाव आयोग ने इन विभागों के साथ की बैठक

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त ने कहा अक्सर बोर्ड परीक्षाओं के साथ टकराव होता है। ''हमने सीबीएसई अथॉरिटीज के साथ कई मीटिंग की ताकि उनके संवेदनशील मुद्दों का हल निकाल सकें और इसके परिणाम सामंजस्यपूर्ण रहे हैं।'' सुनील अरोड़ा ने कहा चुनाव आयोग अपना सिस्‍टम है हम सुरक्षा बलों की उपलब्धता को लेकर होम मिनिस्‍ट्री के साथ मीटिंग की। "हमने रेल मंत्रालय, डाक विभाग और प्रक्रिया से जुड़े किसी अन्य विभाग की उपलब्धता के बारे में गृह मंत्रालय के अधिकारियों के साथ कई बैठकें आयोजित की। सभी पांच राज्यों का चुनाव आयोग के कर्मचारियों ने दौरा किया है।

सीईसी ने कहा हमने सभी प्रक्रिया के तहत कार्य किया

अरोड़ा ने कहा हम चुनाव हम राजनीतिक दलों के साथ बातचीत करके प्रक्रिया शुरू करते हैं क्योंकि मतदाताओं के बाद, राजनीतिक संस्थाएं चुनावी प्रक्रिया का आधार बनती हैं। सीईसी ने कहा फिर हम फील्ड अधिकारियों से बात करते हैं, इसके बाद भारत सरकार और राज्य सरकारों दोनों की नियामक एजेंसियां से बात करते हैं। तब हम मुख्य सचिव और राज्य के पुलिस महानिदेशक से मिलते हैं। पूरी प्रक्रिया की घोषणा तारीखों की घोषणा के रूप में होती है।

इन तारीखों पर होंगे चुनाव

गौरतलब है कि देश के पांच विधानसभा चुनावों के लिए मतदान 27 मार्च से शुरू होगा, जिसमें पश्चिम बंगाल में आठ चरण में चुनाव होंगे जो 29 अप्रैल तक जारी रहेंगे। वहीं अन्‍य चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के लिए मतगणना 2 मई को होगी। असम विधानसभा चुनाव 27 मार्च, 1 अप्रैल और 6 अप्रैल को तीन चरणों में आयोजित किए जाएंगे, जबकि केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी विधानसभा चुनावों के लिए मतदान 6 अप्रैल को एक ही चरण में होगा।

मिलिए सुनील अरोड़ा से जिनकी देखरेख में होगें पांच राज्‍यों के चुनाव,इसके बाद सीईसी पद से होंगे रिटायर

https://www.filmibeat.com/photos/sonam-bajwa-70650.html?src=hi-oiसोनम बाजवा की इन Pics से आपकी नजरें नहीं हटेंगी, गारंटी है

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chief Election Commissioner Satish Arora said on allegations about election methods - will not make everyone happy
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X