• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Chhattisgarh Assembly Elections 2018: राज बब्बर के बिगड़े बोल, कहा-नक्सली क्रांति के लिए निकले हैं, गोलियों से हल नहीं निकलेगा

|

रायपुर। आतंकवाद और नक्सलवाद के बारे में बात करते हुए फिल्म अभिनेता और उत्तरप्रदेश के अध्यक्ष राजबब्बर ने बड़ा बयान दिया है, उन्होंने एक प्रेसवार्ता में कहा कि आतंकवाद, नक्सलवाद अधिकारों को लेकर शुरू हुआ है, गोलियों से फैसले नहीं होते, उनके सवालों का सुनना होगा, डराकर, लालच देकर क्रांति से निकले लोगों को रोक नहीं सकते। यह मेरी राय है और मैंने अपनी पार्टी को भी इस बारे में बताया है। ना इधर की बंदूक से हल निकलेगा, ना उधर की बंदूक से हल निकलेगा, हल बातचीत से निकलेगा।

नक्सली क्रांति के लिए निकले हैं: राजबब्बर

नक्सली क्रांति के लिए निकले हैं: राजबब्बर

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में मंगलवार को हुए नक्सली हमले में एक मीडियाकर्मी समेत दो जवानों की मौत हो गई थी, जिसके बारे में बात करते हुए राजबब्बर ने ये बयान दिया है।

यह भी पढ़ें: शशि थरूर बोले- सफेद घोड़े पर हाथ में तलवार लेकर बैठे हीरो हैं PM मोदी

राज बब्बर के बयान पर मचा बवाल

जिसके बाद काफी बवाल मच गया, हालांकि मामला उग्र होते देख राज बब्बर ने अपने बयान पर सफाई दी, उन्होंने कांग्रेस की पूरी लीडरशिप नक्सलियों ने खत्म कर दी, वे कैसे उनके पक्ष में हो सकते हैं, अपने बयान से पलटते हुए बब्बर ने कहा कि हम ये कह रहे हैं कि जो अपने-आप को क्रांतिकारी कहते हैं, कश्मीर में कहते थे, बंगाल में कहते थे, पंजाब में भी कहते थे, यहां भी कह रहे हैं।

मुख्यमंत्री रमनसिंह और भाजपा सरकार पर जमकर हमला

मुख्यमंत्री रमनसिंह और भाजपा सरकार पर जमकर हमला

राजबब्बर ने मुख्यमंत्री रमनसिंह और भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि एक डॉक्टर ने जिन्होंने इस प्रदेश का इलाज किया है, उसमें आम जनता परेशान हो गई है, आज यहां की जनता इतनी परेशान है कि उत्तरप्रदेश से उन्हें बाबा को बुलाना पड़ा है।

डॉक्टर साहब ने राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था को आईसीयू में डाल दिया....

डॉक्टर साहब ने राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था को आईसीयू में डाल दिया....

सच तो ये है कि प्रदेश के मुखिया डॉक्टर साहब ने राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था को आईसीयू में डाल दिया है। गरीबों को उपचार के लिए भटकना पड़ रहा है, उन्होंने कहा कि सुपेबेड़ा में 170 लोगों की किडनी फेल हो जाती है, लेकिन सरकार मौन बनी रहती है, सीएम के पास सुपेबेड़ा जाने के लिए समय नहीं था। बस्तर में जवान शहीद हो रहे हैं, लेकिन जवानों के इलाज़ के लिए 15 वर्ष में अस्पताल में नहीं बने, 6 मेडिकल कॉलेजों में 600 पद खाली हैं।

यह भी पढ़ें: गले में गमछा डाले, सड़क किनारे गोलगप्पे खाते दिखे शाहरुख खान, Video वायरल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress star campaigner and yesteryear Bollywood actor Raj Babbar on Saturday described the Naxals as “revoluntaries” fighting for the causes of the poor, landing his party in embarrassment.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X