• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

तपोवन टनल में रेस्क्यू ऑपरेशन का छठा दिन, अभी तक 36 डेडबॉडी हो चुकी हैं बरामद

|

देहरादून। Rescue Operation in Tapovan tunnel उत्तराखंड के चमोली जिले में तपोवन टनल में रेस्क्यू ऑपरेशन छठवें दिन फिर से शुरू हो गया है। आपको बता दें कि गुरुवार को टनल के आसपास पानी आ जाने की वजह से काम को रोक दिया गया था, लेकिन शुक्रवार को राहत बचाव का काम फिर से शुरू हो गया। आपको बता दें कि सुरंग के अंदर अभी भी लोगों के बचे होने की उम्मीद है, जिसके सहारे SDRF, NDRF, Army, ITBP और स्थानीय लोग रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे हैं। बता दें कि चमोली जिले में ग्लेशियर फटने की घटना के बात भारी तबाही मची थी। इस घटना में ऋषिगंगा नदी का जलस्तर बढ़ गया था। अभी तक इस घटना में 36 लोगों की जान जा चुकी है जबकि 200 से अधिक लोग अभी भी लापता हैं। इस टनल में अभी भी 25 से 30 लोगों के फंसे होने की आशंका है।

    Chamoli Glacier Burst : Tapovan Tunnel में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी,अब तक 36 शव बरामद | वनइंडिया हिंदी

    Tapovan tunnel

    तपोवन टनल में चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन को लेकर गृह मंत्रालय ने एक समीक्षा बैठक की। इस मीटिंग की अध्यक्षता केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने की। इस मीटिंग में गुरुवार ऋषिगंगा नदी में अचानक से बढ़े जलस्तर को लेकर चर्चा की गई। इस चर्चा के दौरान स्थिति का विश्लेषण करने के लिए एक्सपर्ट की एक टीम को घटनास्थल पर भेजने का फैसला किया गया।

    आधी रात तक चला राहत बचाव का कार्य

    आपको बता दें कि गुरुवार को दोपहर के वक्त अचानक से ऋषिगंगा नदी का जलस्तर बढ़ने लगा, जिसकी वजह से काम को रोक दिया गया था, लेकिन इसके बाद चुनिंदा मेंबर्स की टीम के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन फिर से शुरू किया गया और आधी रात तक रेस्क्यू ऑपरेशन चलता रहा। आधी रात तक टनल के अंदर से मलबा और गाद को जेसीबी लगाकर डंपर से बाहर लाया गया।

    English summary
    Chamoli Incident: 6th day rescue operation will continue in tapovan tunnel
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X