• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पर्यावरण मंत्री जावेड़कर ने कहा दिल्‍ली की Air quality अभी भी बहुत खराब है, biomass जलाने के खिलाफ कार्रवाई करने के दिए निर्देश

|

नई दिल्‍ली। देश की राजाधानी दिल्‍ली दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में दूसरे नंबर है। वहीं जाड़ा शुरू होते ही हर बार की तरह दिल्‍ली की हवा एक बार फिर जहरीली हो चुकी है। दिल्‍ली की आम आदमी की सरकार के कई प्रयासों के बाद भी दिल्‍ली में लोगों का सांस लेना अभी भी दूभर हो रहा है। वहीं अब केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दिल्‍ली सरकार को नोटिस जारी किया है।

javedkar

शुक्रवार को पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि दिल्ली में वायु की गुणवत्ता अभी भी बहुत खराब श्रेणी में है, भले ही वहां पराली जलना बंद हो गया है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया, बायोमास जलने और धूल जैसे प्रदूषण के कारणों पर कार्रवाई करने के लिए आदेश दिया है।

गौरतलब है कि दिल्‍ली में अक्‍टूबर माह से ही प्रदूषण का स्‍तर बढ़ता ही जा रहा है। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के अनुसार दिसंबर माह में दिल्‍ली की हवा प्रदूषण के चलते और भी जहरीली हो जाएगी। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में दिल्‍ली की एयर क्वालिटी और खराब होने की बात कही और चेतावनी दी है।

मौसम विभाग ने दी है ये चेतावनी

मौसम वैज्ञानियों ने अनुमान लगाया है कि कि दिल्ली-एनसीआर में एयर क्ववालिटी - (Air Quality In Delhi-NCR) और भी खराब होने वाली है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि 4 दिसंबर से 7 दिसंबर मौसम और भी खराब होगा। आंकड़ों पर गौर करें तो दिल्‍ली में पिछले नौ दिन खराब एयर क्वॉलिटी रिकॉर्ड की गई। मंगलवार को शहर में 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 367 था। सोमवार को यह 318 था जबकि रविवार को यह 268 था।

जानें एक्‍यूआई का स्‍तर बढ़ने के मायने
मालूम हो कि शून्‍य से 50 के बीच एक्यूआई अच्‍छा माना जाता है वहीं 51 और 100 के बीच एक्यूआई 'संतोषजनक बताया गया है और 101 और 200 के बीच एक्यूआई 'सामान्य', 201 और 300 के बीच एक्यूआई 'खराब माना जाता है और 301 से 400 के बीच एक्यूआई बहुत ही खराब' और 401 से 500 के बीच एक्यूआई 'गंभीर' की श्रेणी में माना गया है।

दिसंबर की शुरूआत में ही बहुत खराब श्रेणी में पहुंच चुका है प्रदूषण का स्‍‍तर

दिसंबर माह की शुरूआत में ही एक्‍यूआई 367 पर पहुंच चुका है यानी कि बहुत ही खराब श्रेणी में पहुंच चुका है। यहीं कारण है कि केन्‍द्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने दिल्‍ली सरकार को नोटिस भेजकर बॉयोमास जलाने और धूल जैसे प्रदूषण उतपन्‍न करने वाले कारकों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है।

English summary
Central Pollution Control Board has issued notice to Delhi govt, for better condition of air quality, directed to take action against them
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X