• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रेमडेसिविर इंजेक्शन को लेकर केंद्र ने दी अच्छी खबर, आज से 1.5 लाख वाइल का उत्पादन शुरू

|

नई दिल्ली, 18 अप्रैल: कोविड के इलाज में काम आने वाली रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत दूर करने के मोर्चे पर केंद्र सरकार ने बहुत बड़ी बात कही है। केंद्रीय रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा है कि देश में रेमडेसिविर इंजेक्शन के उत्पादन में तेजी आए और इसकी कीमतें कम हों, इसके लिए भारत सरकार लगातार कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा है कि आज से इस दवा की 1.5 लाख वाइल का प्रतिदिन उत्पादन शुरू हो गया है और आने वाले 15 दिनों में इसका उत्पादन बढ़कर रोजाना 3 लाख वाइल हो जाएगा। इसके लिए इसके 20 प्लांट बढ़ाने की भी मंजूरी दी गई है, जिससे यह मौजूदा 20 प्लांट से दोगुनी हो जाएगी। उन्होंने कहा है कि सरकार ने रेमडेसिविर की कीमतें कम करने के लिए भी सभी कंपनियों से बातचीत की है, जिसकी वजह से सभी कंपनियों ने अपनी कीमतें घटा दी हैं। यही वजह है कि कल तक इसकी खुदरा कीमतें जो 5,000 रुपये या उससे भी ज्यादा थी, अब वह घटकर 3,500 रुपये से भी कम हो गई है।

Daily production of 1.5 Lakh Viles of Remedisivir Injection starts from today,double production in 15 days

899 रुपये तक हो गई कीमत
गौरतलब है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन कोविड के उन मरीजों के इलाज में काम आती है, जिनकी स्थिति गंभीर होती है। देश के कई हिस्सों से इसकी मांग में इजाफे के बाद इसकी जमाखोरी, कालाबाजारी और किल्लत की खबरें आ रही थीं, जिसके बाद केंद्र सरकार ने इसमें पिछले हफ्ते दखल दिया था। इसके चलते इसकी 100 एमएल वाइल के दाम 2,800 से 5,400 रुपये से घटकर 899 से 3,490 रुपये तक रह गई है। इसे बनाने वाली 7 कंपनियों ने महामारी की मौजूदा हालात को देखते हुए यह कदम उठाया है।

मांग पूरा करने के लिए उठाया कदम
बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार ने इसकी जमाखोरी और कालाबाजारी रोकने और सप्लाई सामान्य बनाए रखने के लिए इसकी निर्यात पर रोक लगा दी थी। इसके साथ ही केंद्र ने इन कंपनियों को इसकी उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए भी जल्दी मंजूरी देने का फैसला उठाया था, ताकि महीने में इसके मौजूदा उत्पादन क्षमता 38.80 लाख वाइल से बढ़ाकर 78 लाख वाइल के करीब किया जा सके।

    Coronavirus Update: Remdesivir पर Maharashtra में सियासत तेज, Shivsena-BJP आमने सामने|वनइंडिया हिंदी

    7 कंपनियों ने कम कर दिए हैं दाम
    जिन कंपनियों ने इसकी कीमतें घटाई हैं, उनमें कैडिला हेल्थकेयर,सिप्ला, डॉक्टर रेड्डीज लैबोरेटरीज, हिट्रो लैब्स, जुबिलिएंट फार्मा, मायलैन और सिंजीन इंटरनेशनल। इस दवा का इस्तेमाल मूल रूप से इबोला वायरस के इलाज में होता था,लेकिन दुनिया के कई डॉक्टरों ने इसे कोविड के गंभीर मामलों में भी कारगर माना है। हालांकि, तथ्य यह भी है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे कोरोना के इलाज के लिए उपयुक्त नहीं बताया है।

    इसे भी पढ़ें- महाराष्ट्र में रेमडेसिविर पर गरमाई राजनीति, देवेंद्र फडणवीस बोले- रेमडेसिविर सप्लायर को पुलिस कर रही है परेशानइसे भी पढ़ें- महाराष्ट्र में रेमडेसिविर पर गरमाई राजनीति, देवेंद्र फडणवीस बोले- रेमडेसिविर सप्लायर को पुलिस कर रही है परेशान

    English summary
    Daily production of 1.5 Lakh Viles of Remedisivir starts from today,double production in 15 days
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X