• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Bipin Rawat : 'माचिस की डिब्बी' के कारण हुआ था बिपिन रावत का NDA में सेलेक्शन, खुद ही शेयर किया था किस्सा

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 09 दिसंबर। तमिलनाडु में हेलिकॉप्टर क्रैश का शिकार हुए CDS बिपिन रावत अब हमारे बीच में नहीं हैं। लेकिन उनकी यादें हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगी। उनका जाना भारत के लिए अपूर्णनीय क्षति है। रावत से जुड़े ऐसे बहुत सारे किस्से हैं, जिन्हें लोग याद कर रहे हैं। ऐसा ही एक किस्सा है उनका नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) में सेलेक्शन का, जिसका जिक्र उन्होंने एक इंटरव्यू में किया था। बिपिन रावत ने कहा था कि ये बात उस दौर की है, जब उनका सेलेक्शन UPSC द्वारा आयोजित नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) की लिखित परीक्षा को पास किया था और उसके बाद उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया गया था।

'ऐसी स्थिति में वे अपने पास माचिस रखेंगे'

'ऐसी स्थिति में वे अपने पास माचिस रखेंगे'

जब वो इंटरव्यू के लिए वहां गए तो हर छात्र की तरह वो भी थोड़ा नर्वस ही थे। जब वो इंटरव्यू हॉल में पहुंचे तो उन्होंने देखा कि वहां पर कोई ब्रिगेडियर रैंक का अधिकारी साक्षात्कार ले रहा है। उन्होंने बिपिन रावत से कहा कि 'यदि आपको ट्रैकिंग पर जाना हो और वो ट्रैकिंग 4-5 दिन की हो तो आप एक सबसे अहम सामान का नाम बताएं जो आप अपने पास रखना चाहंगे? जिसके जवाब में बिपिन रावत ने कहा था कि 'ऐसी स्थिति में वे अपने पास माचिस रखेंगे'।

Bipin Rawat : रावत के निधन से दुखी मित्र संधू ने कहा-'वो यारों का यार था और CDS के लिए बेस्ट च्वाइस'Bipin Rawat : रावत के निधन से दुखी मित्र संधू ने कहा-'वो यारों का यार था और CDS के लिए बेस्ट च्वाइस'

अधिकारी ने कहा माचिस ही क्यों?

अधिकारी ने कहा माचिस ही क्यों?

इस पर उस अधिकारी ने कहा माचिस ही क्यों?तो इस पर बिपिन रावत ने कहा कि माचिस से मैं बहुत सारे काम कर सकता हूं? इस पर अधिकारी ने उनपर दवाब बनाया कि वो अपना उत्तर बदल लें, वो किताब, बोतल या चाकू भी ले जा सकते हैं। इस पर बिपिन रावत ने उनसे कहा था कि जब 'आदिकाल में मनुष्य जंगलों में रहा करता था तो उसने सबसे पहले आग की खोज की थी इसलिए मेरी नजर में मेरे लिए माचिस ही सबसे जरूरी है।'

    Bipin Rawat Passed Away: माचिस की डिबिया ने Bipin Rawat को दिलाई थी NDA में एंट्री | वनइंडिया हिंदी
    अधिकारी ने मुझे Thank You बोल

    अधिकारी ने मुझे Thank You बोल

    इसके बाद उस अधिकारी ने मुझे Thank You बोल दिया था। मैं इंटरव्यू देकर रूम से बाहर आ गया था। मुझे नहीं पता कि मेरा वो जवाब सही था या नहीं? लेकिन हां मेरा एनडीए में सेलेक्शन हो गया था। इसलिए मुझे लगता है कि मेरे सेलेक्शन में उस जवाब ने अहम भूमिका निभाई।

    मालूम हो कि सीडीएस बिपिन रावत ने इन निम्नलिखित पदों के लिए किया है काम

    मालूम हो कि सीडीएस बिपिन रावत ने इन निम्नलिखित पदों के लिए किया है काम

    • बतौर लेफ्टिनेंट ( करियर प्रारंभ)
    • मिलिट्री ऑपरेशंस डायरेक्टोरेट में वे जनरल स्टाफ ऑफिसर ग्रेड टू
    • मिलिट्री ऑपरेशंस डायरेक्टोरेट में वे जनरल स्टाफ ऑफिसर ग्रेड टू
    • कर्नल मिलिट्री सेक्रेटरी,
    • डिप्‍टी मिलिट्री सेक्रेटरी,
    • जूनियर कमांड विंग में सीनियर इंस्ट्रक्टर
    • आर्मी कमांड चीफ

    Comments
    English summary
    How a 'matchbox' became reason for CDS General Bipin Rawat's selection in NDA?, here is interesting Story.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X