• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

IPU जेनेवा के एक्सटर्नल ऑडिटर बने गिरीश चंद्र मुर्मू, 3 साल का रहेगा कार्यकाल

|

नई दिल्ली। देश के CAG और जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) पूर्व उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू (Girish Chandra Murmu) को संयुक्त राष्ट्र महासभा की इंटरनल पार्लियामेंट यूनियन जेनेवा (IPU) में एक्सटर्नल ऑडिटर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। गिरीश चंद्र मुर्मू स्विटजरलैंड के सुप्रीम ऑडिट इंस्टीट्यूशन से इस पद की जिम्मेदारी संभालेंगे। वो बहुत जल्द ही इस पद को ग्रहण करेंगे। जीसी मुर्मू का कार्यकाल तीन साल के लिए होगा। आपको बता दें कि इंटरनल पार्लियामेंट यूनियन को संयुक्त राष्ट्र महासभा में स्थायी पर्यवेक्षक का दर्जा प्राप्त है।

Girish chandra murmu

क्या है IPU

इंटर पार्लियामेंट्री यूनियन (IPU) एक अंतरराष्ट्रीय संगठन, जिसका काम लोकतांत्रिक देशों की संसदों के बीच तालमेल बिठाना है। इस संगठन का मुख्य उद्देश्य लोकतांत्रित प्रशासन को प्रमोट करना, जवाबदेही तय करना, सदस्य देशों के बीच तालमेल बिठाना है। इसके अलावा यह संगठन राजनीति में समानता को भी बढ़ावा देता है।

कौन हैं गिरीश चंद्र मुर्मू?

आपको बता दें कि गिरीश चंद्र मुर्मू वर्तमान में देश के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (CAG) है। उन्हें ये जिम्मेदारी इसी साल अगस्त में दी गई थी। इससे पहले वो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के पहले उपराज्यपाल नियुक्त किए गए थे। हालांकि कुछ ही महीनों के बाद उन्हें देश का CAG बना दिया गया। उन्हें पिछले साल अक्टूबर में जम्मू-कश्मीर का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया था। गिरीश चंद्र मुर्मू गुजरात कैडर के IAS अफसर हैं।

ये भी पढ़ें: देश के नए CAG बने जीसी मुर्मू, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CAG become external auditor of IPU Geneva
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X