बक्सर के डीएम ने घरेलू झगड़े से तंग आकर की आत्महत्या, सीएम नीतीश ने जताया दुख

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

गाजियाबाद। बिहार के बक्सर जिले के डीएम मुकेश कुमार पांडेय ने गुरुवार को गाजियाबाद में आत्महत्या कर ली,  2012 बैच के आईएएस मुकेश पांडे का शव गाजियाबाद स्टेशन से एक किलोमीटर दूर कोटगांव के पास रेलवे ट्रैक पर कटा हुआ मिला है।

अमीर बीवी या कुछ और...आखिर क्या है डीएम मुकेश पांडेय के सुसाइड की असली वजह?

घर के झगड़े से तंग होकर बक्सर के डीएम ने की खुदकुशी!

ये हादसा किस ट्रेन से और कितने बजे हुआ अभी ये पता नहीं चला है, फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

किसी को व्हाट्सऐप मैसेज किया

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुकेश पांडे ने आत्महत्या से संबंधित किसी को व्हाट्सऐप मैसेज किया था। वो पहले जनकपुरी में एक होटल की 10वीं मंजिल पर खुदकुशी करने पहुंचे थे। मैसेज के बारे में जैसे ही दिल्ली पुलिस को पता चला तो वो होटल पहुंची लेकिन मुकेश पांडे पुलिस को वहां नहीं मिले। इसके बाद डीएम के गाजियाबाद इलाके में ट्रेन के आगे कूदकर जान देने की घटना सामने आई।

मैं अपनी जिंदगी से बहुत ज्यादा परेशान हो चुका हूं

सूत्रों के मुताबिक जो मैसेज मुकेश पांडे ने किया था उसमें लिखा था कि मैं पश्चिमी दिल्ली के जनकपुरी इलाके में होटल पिकादिल्ली की 10वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने जा रहा हूं क्योंकि मैं अपनी जिंदगी से बहुत ज्यादा परेशान हो चुका हूं। मेरा सुसाइड नोट लीला पैलेस होटल के रूम नंबर 742 में एक बैग में रखा है।

सरोजिनी नगर पुलिस स्टेशन में उनके लापता होने की रिपोर्ट

वैसे आज तक की खबर के मुताबिक मुकेश पांडे ने अपने सोसाइड नोट में लिखा है कि अपनी बीवी और अपने मां-बाप के बीच हो रहे झगड़े से बेहद परेशान हैं और इससे तंग आकर ही वो आत्महत्या करने जा रहे हैं।

बक्सर के डीएम की आत्महत्या से सीएम नीतीश भी हैरान, जताया शोक

डीएम मुकेश पांडे बुधवार देर रात बक्सर से दिल्ली के लिए निकले थे और कहा था कि उनके मामा को हार्ट अटैक आया है लेकिन उसके बाद से उनके बारे में कुछ अता-पता नहीं चला इसलिए गुरुवार को मुकेश के ससुर ने सरोजिनी नगर पुलिस स्टेशन में उनके लापता होने की रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी।

अभी तीन महीने की बच्ची

खास बात ये है कि मुकेश पांडे को 4 अगस्त को ही बक्सर का डीएम बनाया गया था। उनकी अभी तीन महीने की बच्ची है। UPSC परीक्षा 2012 में उन्हें 14वीं रैंक मिली थी। मुकेश पांडे को साल 2015 में संयुक्त सचिव रैंक में प्रमोशन मिला था।

डीएम की आत्महत्या से सीएम नीतीश कुमार भी काफी हैरान हैं, उन्होंने शोक प्रकट करते हुए मुकेश पांडे की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mukesh Pandey, district magistrate of Buxar allegedly committed suicide at Ghaziabad railway station on Thursday night.
Please Wait while comments are loading...