• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Lockdown: ऋषिकेश से दिल्ली आ रहे थे 14 जापानी, पुलिस के पूछने पर ड्राइवर ने बताई चौंकाने वाली बात

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन लागू है ऐसे में बहुत ही कम यात्री वाहनों को सड़क पर उतरने की अनुमति दी जा रही है। केंद्र और राज्य सरकारों ने लोगों का अपने घरों में रहने को कहा है और जो नियमों का उल्लंघन कर रहा है उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा रही है। लॉकडाउन के तीसरे दिन दिल्ली-गाजियाबाद सीमा पर पुलिस ने एक प्राइवेट टूरिस्ट बस को रोका जिसमें 14 जापानी नागरिकों सवार थे। पूछताछ करने पर पता चला कि सभी नागरिक ऋषिकेश से दिल्ली के पहाड़गंज जा रहे थे।

ड्राइवर को नहीं पता जापानियों का COVID-19 टेस्ट हुआ या नहीं

ड्राइवर को नहीं पता जापानियों का COVID-19 टेस्ट हुआ या नहीं

गौरतलब है कि लॉकडाउन के चलते दिल्ली सहित कई राज्यों की सीमा को सील कर दिया गया है और जांच के बाद ही वाहनों को प्रवेश की अनुमति दी जा रही है। शुक्रवार को जापानी नागरिकों से भरी प्राइवेट बस के मिलने से पुलिस हरकत में आ गई और ड्राइवर समेत पूरी गाड़ी को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस ने बस ड्राइवर की पहचान देवेंद्र नेगी के रूप में की है। ड्राइवर ने बताया कि उसने इन जापानी नागरिकों के ऋषिकेश में एक योग केंद्र से उठाया और पहाड़गंज में उन्हें छोड़ने के लिए कहा गया। देवेंद्र नेगी ने कहा, मुझे नहीं पता कि इनका COVID-19 के लिए परीक्षण किया गया है या नहीं।

लॉकडाउन के दौरान दिल्ली-यूपी बॉर्डर बंद

देशभर में लॉकडाउन के चलते पुलिस दिल्ली की सीमा पर आने वाली निजी वाहनों को प्रवेश करने से रोक रही है। इसी बीच जापानी नागरिकों से भरी बस मिलने से हर कोई हैरान है, पुलिस अब बस के ड्राइवर से उसके मालिक के बारे में पूछताछ कर रही है। बता दें कि लॉकडाउन के दौरान दिल्ली-यूपी बॉर्डर (गाजीपुर के पास ) पर निजी वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध है। दिल्ली आने वाली सिर्फ उन्हीं गाड़ियों को प्रवेस की अनुमति मिल रही है जिनके पास कर्फ्यू पास है या फिर जिन्हें सरकार द्वारा छूट दी गई है।

सीएम केजरीवाल ने दी ये जानकारी

शुक्रवार को सीएम केजरीवाल ने बताया कि कल तक दिल्ली में कोरोना वायरस के 36 मामले थे, आज 39 मामले हो गए हैं। उन्होंने कहा, अब तक हम 224 रैन बसेरों में 20,000 लोगों को खाना खिला रहे थे। आज से हम 325 स्कूलों के अंदर लंच और डिनर दोनों देंगे और रैन बसेरों में भी खाना बढ़ाएंगे। आज से हम 2 लाख लोगों को खाना खिलाएंगे और कल से हम 4 लाख लोगों को खाना खिलाएंगे। सीएम ने आगे कहा कि दिल्ली की सीमाओं के अंदर जो भी लोग रह रहे हैं उन सब लोगों की जिम्मेदारी हमारी है चाहे वो झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु या किसी अन्य राज्य के ही क्यों ना हों।

UNSC में कोरोना वायरस से जुड़ा प्रस्‍ताव चीन ने ठुकराया, रूस और साउथ अफ्रीका का मिला समर्थन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bus carrying 14 Japanese nationals was stopped by police at Delhi-Ghaziabad border
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X