• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अब कॉमेडियन भारती सिंह ने बयां किया 'कास्टिंग काउच' का दर्द, बोलीं- मेरी पीठ पर...

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, जुलाई 16: कॉमेडी क्वीन भारती सिंह हमेशा सबको हंसाती गुदगुदाती रहती हैं। लेकिन इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में उनका सफर इतना आसान नहीं रहा है। कई बार उन्हें भेदभाव और कई अन्य तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा है। हाल ही में एक टॉक शो में भारती सिंह ने काम करने के दौरान अपने आस-पास के पुरुषों द्वारा पैदा की गई परेशानियों पर खुल कर बात की। भारती सिंह ने मनीष के इस शो में बताया कि पहले जब वह स्टेज शोज करती थीं तो कई लोग उन्हें गलत तरीके से छूते थे।

'शो के दौरान लोग मुझे गलत तरीके से छूते थे'

'शो के दौरान लोग मुझे गलत तरीके से छूते थे'

एक्टर-कॉमेडियन मनीष पॉल के टॉक शो में भारती सिंह ने बताया कि, शो कॉर्डिनेटर्स द्वारा कई बार उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया है। वे पीठ पर हाथ मलते थे। मुझे पता होगा कि यह एक अच्छा एहसास नहीं है, लेकिन फिर भी लगता है कि वह मेरे चाचा की तरह है। वह बुरे नहीं हो सकते है। शायद मैं गलत हूँ और वह सही है। उन्होंने कहा कि, मैं उस समय नहीं जानती थी कि ये चीजें खराब होती हैं।

तब मुझमें नहीं थी हिम्मत: भारती सिंह

तब मुझमें नहीं थी हिम्मत: भारती सिंह

भारती कहती हैं कि भगवान ने हर महिला को एक पावर दी है, जिसमें वह समझ सकती हैं कि सामने वाले इंसान की इंटेंशन क्या है। जब किसी की इंटेंशन ठीक नहीं होती है तो महिला को पता चल जाता । मुझे अब लगता है कि मैं बेवकूफ थी जो इन चीजों को समझती ही नहीं थी। उन्होंने आगे कहा, मुझे लगा कि यह सही नहीं है। मुझे समझ नहीं आ रहा था। मुझमें अब लड़ने का आत्मविश्वास है। अब मैं कह सकती हूं कि 'क्या बात है, आप क्या देख रहे हैं, अब हम बदल रहे हैं। मैं अब बोल सकता हूं, लेकिन तब मुझमें हिम्मत नहीं थी।

मां के साथ भी दुकानदार ने किया था दुर्व्यवहार: भारती

मां के साथ भी दुकानदार ने किया था दुर्व्यवहार: भारती

भारती सिंह ने अपने बचपन के बारे में भी बात की और बताया कि कैसे वह अपनी मां को मुश्किलों का सामना करते देखती थी। मैंने देखा है कि कैसे दुकानदार अपने कर्ज की वापसी की मांग के लिए घर आते थे। वे मेरी मां का हाथ पकड़ते थे। मुझे तब समझ नहीं आया कि वे उनके साथ दुर्व्यवहार कर रहे थे। वे उनका हाथ पकड़ते थे, मां के गलत तरीके से छुआ भी था। इस पर मां ने उससे कहा था कि, 'क्या आपको शर्म नहीं आती, मेरे बच्चे हैं, मेरे पति नहीं हैं और आप इस तरह से व्यवहार करते हैं?। इस घटना के वक्त भारती की मां 24 साल की थीं।

कोरोना: वैक्सीन की 2 डोज लेने से 95% कम हो जाता है मौत का खतरा, दूसरी लहर में बची कई जानेंकोरोना: वैक्सीन की 2 डोज लेने से 95% कम हो जाता है मौत का खतरा, दूसरी लहर में बची कई जानें

पिता को लेकर कही ये बात

पिता को लेकर कही ये बात

भारती ने इस दौरान कहा कि उनकी जिंदगी में एक ही चीज है, वो है मां। जब वह 2 साल की थीं, तब पिता का देहांत हो गया। उन्होंने अपने पिता को नहीं देखा। न ही उनकी कोई फोटो उनके घर में है। वह अपने पिता की फोटो भी घर में लगाने नहीं देतीं। भारती का कहना है कि उनकी बहन ने पिता को देखा है और उसे ही पिता का प्यार मिला है। पिता से तो प्यार मिल नहीं पाया, साथ ही भाई भी अपनी व्यस्तता के कारण वो प्यार नहीं दे पाया। सब अपने काम में व्यस्त रहते थे।

English summary
Bharti Singh says event coordinators sometimes misbehaved They would rub their hands on the back
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X