• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रेप के मामले में अब बांग्लादेश में दोषियों की दी जाएगी मौत की सजा

|

नई दिल्ली। बांग्लादेश में हाल ही के दिनों में यौन हमलों की कई घटनाएं के कारण लोग सड़कों पर उतर आए हैं। देश में रेप की घटनाओं को लेकर जनाक्रोश भड़कने के बाद प्रधानमंत्री शेख हसीना की अध्यक्षता में सोमवार को बांग्लादेश के मंत्रिमंडल ने दुष्कर्म के मामलों में अधिकतम सजा को आजीवन कारावास से बढ़ाकर मृत्युदंड करने वाले कानूनी संशोधन को मंजूरी दे दी है। कानून मंत्री अनीसुल हक ने बताया कि 12 अक्टूबर को कैबिनेट बैठक में कानून संशोधन का प्रस्ताव रखा।

Bangladesh Cabinet Approves Death Penalty For Rape Cases

प्रधानमंत्री शेख हसीना के मंत्रिमंडल ने बलात्कार के मामलों में अधिकतम सजा उम्र कैद से बढ़ाकर मृत्युदंड करने को सोमवार को मंजूरी दी। सरकार के प्रवक्ता खांडकर अनवारूल इस्लाम ने बताया कि राष्ट्रपति अब्दुल हामिद महिला एवं बाल उत्पीड़न अधिनियम में संशोधन संबंधी अध्यादेश जारी कर सकते हैं क्योंकि संसद का सत्र नहीं चल रहा है। कानून मंत्री अनिसुल हक ने बीडी न्यूज24 को बताया, अध्यादेश कल जारी किया जाएगा।

अनवारूल इस्लाम ने बताया वर्तमान कानून के तहत बलात्कार के मामलों में अधिकतम सजा उम्रकैद है। हालांकि जिस मामलों में पीड़िता की मौत हो जाती है, वहां मृत्युदंड की अनुमति है। हाल ही में नोआखाली में एक महिला के साथ हुए यौन शोषण और सिलहट के एमसी कॉलेज में एक महिला के साथ हुए दुष्कर्म के बाद ढाका समेत देश के कई हिस्सों में जमकर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे थे। इसके बाद इस कानून में संशोधन को मंजूरी दे दी गई।

महिलाओं के अधिकारों के लिए संघर्ष करने वाले संगठन आइन-ओ-सालिश केंद्र के मुताबिक बांग्लादेश में जनवरी से अगस्त के बीच बलात्कार की 889 घटनाएं हुईं और कम से कम 41 पीड़िताओं की जान चली गयी। छात्र समूहों के एक मंच 'बांग्लादेश अगेंस्ट रेप' ने शुक्रवार को शाहबाग में एक रैली का आह्वान किया है।

फारूक के विवादित बोल पर भड़की बीजेपी, कहा-राहुल पाक के और अब्दुल्ला चीन के हीरो

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bangladesh Cabinet Approves Death Penalty For physical assault
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X