• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली सरकार से ऑटो चालकों ने यात्री संख्या बढ़ाने का अनुरोध किया, कहा- पति-पत्नी दो अलग ऑटो क्यों लें?

|

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन के चौथे चरण को लेकर दिशा-निर्देश जारी होने के बाद आज से ऑटो सहित अन्य सेवाएं दोबारा शुरू हो गई हैं। इस बीच नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर आने वाले ऑटो चालकों ने सेवाएं शुरू होने पर खुशी जाहिर की है। साथ ही सरकार से अनुरोध किया कि ऑटो में एक सवारी बैठाने के फैसले पर दोबारा विचार किया जाना चाहिए। ऑटो चालक अनिल प्रसाद ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, 'हम लोग भुखमरी की कगार पर थे। ये सरकार का अच्छा फैसला है और हमें अब पैसे कमाने में भी मदद होगी।'

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

auto driver, delhi, delhi government, guidelines, delhi guidelines, arvind kejriwal, lockdown, coronavirus, covid19, lockdown 4, covid-19, दिल्ली, दिल्ली सरकार, दिशा-निर्देश, लॉकडाउन, कोरोना वायरस, लॉकडाउन 4, कोविड-19, कोविड19, अरविंद केजरीवाल

ऑटो चालक ने आगे कहा, 'लेकिन एक यात्री को बैठाने की अनुमित वाले फैसले पर दोबारा विचार होना चाहिए। मेरा सरकार से सवाल है कि अगर कोई एक ही परिवार से है जैसे पति-पत्नी, तो वो दो ऑटो क्यों करेंगे।' बता दें कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। चौथे लॉकडाउन को लेकर दिल्ली में सोमवार को दिशा-निर्देश जारी किए गए।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ऑटो, ई-रिक्शा, बस और कैब को परिचालन की अनुमति दी गई है। टैक्सी और कैब में दो सवारी यात्रा कर सकती हैं, जबकि ऑटो और ई-रिक्शा में केवल एक यात्री ही सवारी कर सकता है। इसी फैसले को लेकर ऑटो चालक ने सवाल किया है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

दिशा-निर्देशों के अनुसार, मैक्सी कैब और ग्रामीण सेवा में 5 यात्रियों को अनुमति है, लेकिन कार पूलिंग की अनुमति नहीं दी गई है। अब दिल्ली सरकार की बसें भी चलेंगी, लेकिन 20 से ज्यादा यात्री नहीं होंगे। बस को बार-बार सैनिटाइज करना होगा। बस में चढ़ने से पहले सभी की स्क्रीनिंग की जाएगी। इसके साथ ही सोशल डिस्टैंसिग का भी विशेष तौर पर ध्यान रखा जाएगा। बजार में दुकानों को ऑड-ईवन के तहत खोला जाएगा।

वहीं दिल्ली ऑटो-रिक्शा यूनियन के जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र सोनी ने कहा कि कोविड-19 लॉकडाउन के कारण ऑटो चालकों को काफी मुसीबत का सामना करना पड़ा है। ऐसे में इनके लिए राहत पैकेज की घोषणा होनी चाहिए। साथ ही एक से अधिक यात्रियों की सवारी की अनुमति भी मिलनी चाहिए।

दिल्ली से नोएडा और गाजियाबाद आ सकते हैं लोग, कंटेनमेंट जोन वालों को अनुमति नहीं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
auto drivers in delhi urge government to increase passengers allowed expressed happiness
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X