• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

असम-मिजोरम सीमा विवाद को लेकर केंद्र ने की हस्तक्षेप, जानें आखिर दोनों राज्यों के बीच क्यों है तनाव

|

नई दिल्ली: Assam-Mizoram Border clash: असम-मिजोरम सीमा विवाद पर सोमवार को पूरे दिन दोनों राज्यों के अधिकारियों की बैठक चली। मामला इतना ज्यादा बढ़ गया है कि उसमें केंद्र सरकार को भी हस्तक्षेप करना पड़ा है। (Assam-Mizoram border tension) केंद्र सरकार ने सोमवार (19 अक्टूबर) को दोनों राज्यों की सरकारों से मिलकर सीमा विवाद को सुलझाने और शांति बहाल करने को कहा है। इधर असम और मिजोरम सरकार के अधिकारियों ने शनिवार (17 अक्टूबर) रात हुई हिंसा के बाद दोनों राज्यों के बीच सीमा पर तनाव को दूर करने के लिए सोमवार को बातचीत की। असम के कछार जिले के लायलपुर में दोनों राज्यों के धिकारियों ने बातचीत की। हालांकि अब दावा किया जा रहा है कि हालात काबू में हैं, लेकिन मामला अभी भी सुलझा नहीं है।

Assam-Mizoram
    Assam, Mizoram Border पर हिंसक झड़प जानिए क्या है विवाद की वजह? | वनइंडिया हिंदी

    अधिकारी बोले- सीमा विवाद को हल करने में लग सकता है समय

    सोमवार को हुई दोनों राज्यों की बैठक में मुकेश अग्रवाल (डीजीपी स्पेशल (सीमा)), कीर्ति जल्ली (उपायुक्त) और दिलीप कुमार डे (डीआईजी (दक्षिणी रेंज) सहित असम पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी बैठक में मौजूद थे। बैठक के बाज डीजीपी स्पेशल (सीमा) मुकेश अग्रवाल ने कहा, सीमा मुद्दे को सुलह दृष्टिकोण के माध्यम से हल किया जाना चाहिए न कि टकराव के माध्यम से। सीमा विवाद को हल करने में समय लग सकता है क्योंकि इसके लिए एक निश्चित प्रक्रिया और तंत्र से गुजरना पड़ता है।

    असम के CM ने की पीएम मोदी और अमित शाह से बात

    असम-मिजोरम सीमा विवाद को लेकर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से फोन पर बात की। पीएम मोदी और अमित शाह की ओर से भरोसा दिलाया गया है कि अंतरराज्यीय सीमा पर हालात सुधारने के लिए केंद्र से जरूरी कदम उठाए जाएंगे। इधर केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सोमवार (18 अक्टूबर) को असम- मिजोरम के मुख्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की।

    जानिए आखिर क्या है असम और मिजोरम के बीच विवाद

    असम और मिजोरम, दोनों ही राज्यों की सीमा अभी तक निर्धारित नहीं है, जिसे लेकर वहां अक्सर विवाद और तनाव हो जाता है। शनिवार (17 अक्टूबर) की रात का मामला भी सीमा विवाद को लेकर ही है। शनिवार की रात मिजोरम के कोलासिब जिले और असम के कछार जिले की सीमा पर दो समूहों में हिंसक झड़प हो गई थी।

    दोनों राज्यों में किस बात को लेकर हुई हिंसक झड़प

    बीबीसी में छपी रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण असम के पुलिस उप-महानिरीक्षक दिलीप कुमार डे ने का, असम के लैलापुर में मिजोरम के सरकारी अधिकारियों ने कोरोना जांच के लिए एक कैम्प बनाया था। ताकि राज्य में प्रवेश करने से पहले लोगों का कोविड-19 टेस्ट किया जा सके।

    अब मिजोरम के अधिकारियों ने जब असम के लैलापुर में कैम्प लगाया तो असम सरकार ने इसपर आपत्ति जताई। जिसके बाद ही दोनों राज्यों के बीच हिंसक झड़प हुई।

    ये भी पढ़ें- असम-मिजोरम के बार्डर पर हिंसक झड़प, कई घायल, गृह मंत्री ने बुलाई मीटिंगये भी पढ़ें- असम-मिजोरम के बार्डर पर हिंसक झड़प, कई घायल, गृह मंत्री ने बुलाई मीटिंग

    English summary
    Assam-Mizoram Border tension: Officials Hold Talks To Resolve Border Clash, NEED TO KNOW. As part of confidence-building measures, both Assam & Mizoram held official level talks at Lailapur in Cachar district y'day close to inter-state border to resolve amicably border flare-up that broke out on the night of Oct 17
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X