• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हिमंत बिश्व सरमा के मदरसा वाले बयान पर भड़के असदुद्दीन ओवैसी, बोले लोग बाढ़ से मर रहे, ये हेट स्पीच में व्यस्त

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 24 मई। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिश्व सरमा ने जिस तरह से हाल ही में मदरसा को लेकर बयान दिया है उसपर एआईएमआईएम के मुखिया और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने तीखा हमला बोला है। ओवैसी ने कहा कि असम में बाढ़ से 18 लोगों की मौत हो गई है, 7 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं और ये हेट स्पीच देने में व्यस्त हैं। ओवैसी ने सरमा के भाषण का वीडियो शेयर करते लिखा, जब संघी ब्रिटिश एजेंट के तौर पर काम कर रहे थे तो मदरसा स्वतंत्रता आंदोलन में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे थे। कई मदरसों में इस्लाम से इतर विज्ञान, गणित, सामाजिक विज्ञान पढ़ाया जाता है।

owaisi

इसे भी पढ़ें- राष्ट्रपति चुनाव के लिए BJP की बड़ी बैठक, अमित शाह और नड्डा ने बनाई रणनीतिइसे भी पढ़ें- राष्ट्रपति चुनाव के लिए BJP की बड़ी बैठक, अमित शाह और नड्डा ने बनाई रणनीति

राजा राम मोहन राय मदरसे में पढ़े

ओवैसी ने कहा कि जैसा की शाखा में आत्मसम्मान और सहानुभूति सिखाई जाती है। अशिक्षित संघी ये नहीं समझेंगे। आखिर क्यों हिंदू समाज सुधार राजा राम मोहन राहय ने मदरसे में पढ़ाई की थी। मुस्लिम वंश पर ध्यान देना आपकी हीन भावना को दर्शाता है। मुसलमानों ने भारत को समृद्ध किया है और आगे भी करते रहेंगे। गौर करने वाली बात है कि हिमंत बिश्व सरमा ने कहा था कि मदरसा के अस्तित्व को खत्म कर देना चाहिए क्योंकि जबतक यह दिमाग में रहेगा बच्चे डॉक्टर इंजीनियर नहीं बन पाएंगे।

देश की पहली मस्जिद केरल में बनी

ओवैसी ने कहा कि अशोक ने हजारों लोगों का कत्ल किया, बोलो आरएसएस वालों इस बारे में तुम्हारी क्या राय है। पुष्यमित्रा ने बुद्धों के मंदिरों को तोड़ा, इसकी बात क्यों नहीं करते बीजेपी और संघ के लोग, ताज महल के नीचे जाकर देखेंगे। मैं भी अगर कह दूं कि देश के प्रधानमंत्री जिस घर में रहते हैं उसके नीचे मस्जिद है, खोदी जाए। आज हर चीज को ये इल्जाम लगा दिया जाता है कि ये हुआ तो मुसलमानों की वजह से हुआ, अगर गलत हुआ तो मुगलों की वजह से हुआ है। मैं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पैगाम देना चाहता हूं कि भारत के मुसलमानों का मुगलों से कोई ताल्लुक नहीं है, हमारा ताल्लुक उन लोगों से हैं जो सूफी थे, जो भारत में इस्लाम को लेकर आए। भारत की पहली मस्जिद मुगलों ने नहीं बादे शाह ने बनाई थी और ये केरल में बनी थी। लेकिन भाजपा मुगलों को मुसलमानों से जोड़कर कहती है कि 600 साल पहले ऐसा हुआ था।

भारत का मुसलमान किराएदार नहीं हिस्सेदार है

ओवैसी ने कहा कि ये कहते हैं 450 साल पहले तोड़ी गई, हम उसमे खोदकर देखेंगे। आप बताइए क्या भारत की तारीख मुगलों से शुरू होती है। अगर कोई संघी कहेगा कि आज मुगलों की वजह से ऐसा हो रहा है तो उनसे पूछना भारत कैसे बना, 50 हजार साल पहले अफ्रीका से लोग भारत आए थे। 40 हजार साल पहले ईरान से किसान आए थे, 30 हजार साल पहले लोग नाव से आए थे। ऐसे भारत बना। लेकिन भारत को सिर्फ मुगल नजर आते हैं। आप बताइए कि क्या बादशाह अशोक ने लोगों का कत्ल नहीं किया। हजारों लोगों का कत्ल किया। बताओ आरएसएस वालों अशोक के बारे में तुम्हारी राय क्या है। ये लोग ताज महल के नीचे खोदकर देखेंगे क्या मिलेगा। अगर तुम्हारी आस्था है तो क्या मेरी आस्था नहीं है। क्या मोदी की आस्था ओवैसी की आस्था से बढ़कर है। ये देश आस्था पर नहीं चलता है, ये देश संविधान पर चलता है औ चलता रहेगा। भारत का मुसलमान किराएदार नहीं हिस्सेदार है।

Comments
English summary
Asaduddin Owaisi hits on Himanta Biswa Sarma over his Madarsa remark.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X