• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मेरठ में बोले केजरीवाल- किसानों पर अत्याचार में भाजपा ने अंग्रेजों को पीछे छोड़ा

|

मेरठ। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार किसानों पर जुल्म कर रही है। किसानों पर लाठियां बरसाई जा रही है, कीले ठोकी जा रही है। भाजपा ने अंग्रेजों को पीछे छोड़ दिया है। अंग्रेज सरकार ने किसानों पर जितने जुल्म नहीं किए थे, भाजपा उससे ज्यादा जुल्म किसान के ऊपर कर रही है। आम आदमी की ओर से उत्तर प्रदेश के मेरठ में आयोजित किसान महापंचायत में केजरीवाल ने ये बातें कही हैं।

मेरठ में बोले केजरीवाल- किसानों पर अत्याचार में भाजपा ने अंग्रेजों को पीछे छोड़ा
    Meerut Kisan Mahapanchayat: Arvind Kejriwal बोले- तीनों कृषि कानून डेथ वॉरंट | वनइंडिया हिंदी

    अरविंद केजरीवाल ने कहा, आज अपने देश का किसान बहुत पीड़ा में है, 95 दिनों से कड़कती ठंड में किसान भाई दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं। 250 से ज़्यादा​ किसान शहीद हो चुके हैं लेकिन सरकार पर जूं नहीं रेंग रही। पिछले 70 साल में इस देश के किसान ने ​केवल धोखा देखा है। किसान 70 साल से अपनी फ़सल का सही दाम मांग रहा है। सभी के चुनावी घोषणापत्र में लिखा होगा कि हमें जीता दो हम सही दाम दे देंगे। अगर सही दाम दे देते तो किसान आत्महत्या नहीं करता।

    केजरीवाल ने कहा, भाजपा ने 2014 के घोषणापत्र में कहा था कि हम स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करेंगे। किसानों ने इन्हें जमकर वोट दिया। 3 साल बाद भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट के एफिडेविट में लिखा कि वो MSP नहीं देंगे। इन्होंने किसानों की पीठ में छुरा मार दिया। भाजपा कहती है कि एमएसपी नहीं दी जा सकती क्योंकि इसमें 17 लाख करोड़ का खर्च आएगा। मैं कहना चाहता हूं कि किसान आपसे एमएसपी फ्री में नहीं मांग रहा बल्कि किसान अपनी फसल देगा। सरकार उस फसल को बेच कर पैसा तो कमाएगी। केंद्र सरकार चाहे तो 23 की 23 फसलें एमएसपी पर उठा सकती है।

    ये किसानों का डेथ वारंट

    दिल्ली के सीएम ने कहा कि केंद्र के ये तीन कानून किसानों के डेथ वारंट हैं, ये तीनों कानून लागू होने के बाद किसानों की बची कुची खेती केंद्र सरकार अपने तीन-चार बड़े पूंजीपति साथियों के हाथों में सौंपना चाहती है। सबकी खेती चली जाएगी। केजरीवाल ने कहा कि पिछले 25 साल में साढ़े 3 लाख किसान आत्महत्या कर चुके है लेकिन अब किसान दिल्ली के बॉर्डर पर शहादत दे रहे हैं क्योंकि उनकी ज़िंदगी-मौत पर आ गई है। सब खेती पूंजीपति के हाथ मे चली जाएगी और किसान अपने खेत में मजदूर बन जाएगा। इसी के बचने को किसान आज सड़क पर है।

    लाल किले में जो हुआ, भाजपा ने कराया

    लाल किले का पूरा कांड इन्होंने खुद कराया। मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री हूं, उत्तर प्रदेश, पंजाब के लोगों और किसानों ने मुझे बताया कि ये जानबूझकर उधर भेज रहे थे। जिन्होंने झंडे फहराए वो इनके अपने कार्यकर्ता थे। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार ने 9 स्टेडियम को जेल बनाने के लिए पत्र भेजा था, जिसकी फ़ाइल इन्होंने मेरे पास भेजी। हमने फाइल क्लियर नहीं की। अगर हम जेल बनाने देते तो ये किसानों को वहां कैद कर लेते और सारा आंदोलन खत्म हो जाता।

    योगी सरकार पर भी साधा निशाना

    अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को लेकर कहा कि भाजपा और सरकार के लोग कह रहे हैं कि एमएसपी था, है और रहेगा। मैं योगी आदित्यनाथ से पूछना चाहता हूं कि पश्चिम उत्तर प्रदेश की एक मंडी दिखा दो जहाँ एमएसपी पर धान उठती हो। योगी आदित्यनाथ बताएं कि उनकी क्या मजबूरी है जो पूरी सरकार चीनी मिल मालिकों के आगे घुटने टेक कर बैठी है।अगर तुम किसानों को चीनी मिल मालिकों से उनके पैसे नहीं दिला सकते तो तुम्हारी सरकार पर धिक्कार है।

    हम ट्यूबवेल के लिए फ्री बिजली देंगे

    अरविंज केजरीवाल ने अपनी पार्टी बिजली पानी जैसे मुद्दों पर काम करने वाली बताते हुए कहा कि भाजपा ने किसानों से 25,000 रुपए लेकर बिजली के मीटर लगा दिए। दिल्ली में 73 फीसदी लोगों के बिजली बिल जीरो आते है। आप लोग अच्छी नियत की सरकार ले आओ, गैस के दाम भी कम हो जाएंगे, पेट्रोल के दाम भी कम हो जाएंगे और यहां ट्यूबवेल के साथ बिजली भी मुफ़्त कर देंगे।

    मन की बात में पीएम मोदी ने ओडिशा के सिलू नायक का किया जिक्र, जानिए क्यों उन्हें कहा 'मैन ऑन मिशन'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Arvind Kejriwal in Meerut kisan panchayat Centre three farm laws are death warrant for farmers
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X