• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मैं मोदी का नहीं ममता बनर्जी का समर्थन करूंगा: अन्‍ना हजारे

|
Google Oneindia News

बैंगलोर। आगामी लोकसभा चुनाव 2014 के लिए मार्च से प्रचार अभियान की शुरूआत करने जा रहे समाज सेवी अन्‍ना हजारे ने कहा कि वह आने वाले चुनाव में नरेंद्र मोदी की जगह पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी का समर्थन करेंगे। अन्‍ना के अनुसार ममता ही हैं, जिन्‍होने चार्टर बिल के सभी बिंदुओं पर स‍हमति जताई है और वह एक सादगी भरा जीवन व्‍यतीत करती हैं। अन्‍ना का कहना है कि वह केजरीवाल का समर्थन भी इस बिल पर उनकी सहमति के बाद ही करेंगे। मोदी ने चार्टर बिल पर कोई जवाब नहीं दिया है।

एक प्राइवेट चैनल के कार्यक्रम में यहां आये अन्‍ना ने कहा कि मैं मार्च में शुरू होने वाले चुनाव प्रचार अभियान में ईमानदार प्रत्‍याशियों का समर्थन करूंगा। अन्‍ना, अरविंद केजरीवाल पर किये गये सवालों को टाल गये और कहा कि केजरीवाल ने खुद ही उनसे अलग होने का फैसला किया था, मैं खुद चुनाव नहीं लड़ूगा लेकिन अच्‍छे लोगों का प्रचार करूंगा भले ही वह निर्दलयी क्‍यों न हों? अन्‍ना का कहना है मैं अपना काम करूंगा और अरविंद केजरीवाल अपना काम करेंगे।

अन्‍ना ने बताया कि हमारा मकसद सिर्फ लोकपाल बिल नहीं है, बल्कि 'राइट टू रिजेक्‍ट', राइट टू रिकॉल और ग्रामसभाओं को मजबूत बनाना भी है। उन्‍होने कहा कि मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्‍तंभ है अत: इसे और जिम्‍मेदार होना चाहिए।

एक कार्यक्रम में आये अन्‍ना

एक कार्यक्रम में आये अन्‍ना

एक प्राइवेट टीवी चैनल द्वारा आयोजित एक चर्चा में भाग लेने के लिए समाजसेवी अन्‍ना हजारे बैंगलोर आये हुए थे।

मार्च से प्रचार अभियान की शुरूआत करेंगे अन्‍ना

मार्च से प्रचार अभियान की शुरूआत करेंगे अन्‍ना

चर्चा के कार्यक्रम में पूर्व लोकायुक्‍त संतोष हेगड़े, एच एस डोरस्‍वामी, पूर्व स्‍वतंत्रता संग्राम सेनानी एस आर हीरेमथ भी शामिल थे।

केजरीवाल पर नहीं बोले अन्‍ना

केजरीवाल पर नहीं बोले अन्‍ना

अन्‍ना हजारे ने केजरीवाल पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया, उन्‍होने बस इतना ही कहा कि केजरीवाल अपना काम कर रहे हैं, हम अपना करेंगे।

सिर्फ लोकपाल ही हमारा उद्देश्‍य नहीं

सिर्फ लोकपाल ही हमारा उद्देश्‍य नहीं

अन्‍ना हजारे का कहना है कि सिर्फ लोकपाल बिल ही हमारा उद्देश्‍य नहीं है, हम 'राइट टू रिजेक्‍ट' और 'राइट टू रिकॉल' बिल भी चाहते हैं।

ग्रामसभा हों मजबूत

ग्रामसभा हों मजबूत

अन्‍ना हजारे का कहना है कि ग्रामसभा को शक्ति प्रदान कर ही हम देश को सुशासन दे सकते हैं।

English summary
Activist Anna Hazare on Wednesday made it clear that he won't support BJP's prime ministerial candidate Narendra Modi in the Lok Sabha elections.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X