• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अन्ना हजारे ने खत्म किया अनशन, सरकार ने दिया लोकपाल विधेयक तैयार करने का आश्वासन

|

नई दिल्ली। समाजसेवी और लोकपाल के लिए लड़ाई लड़ रहे अन्ना हजारे ने मंगलवार शाम को अपना अनशन खत्म कर दिया है। अन्ना हजारे पिछले एक सप्ताह से अपने गांव रालेगण सिद्धी में लोकपाल की नियुक्ति को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठे थे, जिसके बाद आज महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह और रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने उनसे मिलकर और लोकपाल विधेयक का आश्वासन देते हुए उनका अनशन खत्म करवाया।

अन्ना हजारे ने 6 दिन बाद खत्म किया अनशन

समाजसेवी अन्ना हजारे 30 जनवरी से भूख हड़ताल कर रहे थे, जो अब खत्म हो चुका है। रालेगण सिद्धी में अन्ना से मुलाकात कर देवेंद्र फडणवीस ने कहा, 'हमने तय किया है कि 13 फरवरी को लोकपाल सर्च कमेटी की बैठक होगी और सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन किया जाएगा। एक संयुक्त मसौदा समिति का गठन किया गया है, यह एक नया विधेयक तैयार करेगी और हम इसे अगले सत्र में पेश करेंगे।

इससे पहले अनशन पर बैठे अन्ना हजारे ने कई बार केंद्र की बीजेपी पर तीखा हमला बोला था। अन्ना ने न सिर्फ बीजेपी नेताओं का अपना इस्तेमाल करने का आरोप लगाया बल्कि यह भी कहा था कि बीजेपी के नेताओं को लोकपाल और लोकायुक्त से नफरत हो गई है।

फडणवीस से अन्ना के अनशन वाले स्थान पर शिवासेना ने भी दौरा कर बीजेपी को हस्तक्षेप करने की गुजारिश की थी। हालांकि, आज सरकार के प्रतिनिधियों ने मिलकर अन्ना को एक बार फिर लोकपाल की नियुक्ति के लिए आश्वासन दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Anna Hazare ends hunger strike, BJP assures on Lokpal
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X