• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अन्ना हजारे का भाजपा को जवाब, दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी को मुझ जैसे फकीर की क्या जरूरत

|

नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा को उस वक्त झटका लगा, जब समाजसेवी अन्ना हजारे ने आम आदमी पार्टी के खिलाफ उनके 'जन-आंदोलन' में शामिल होने से इंकार कर दिया। इसके साथ ही अन्ना हजारे ने भाजपा के निवेदन को 'दुर्भाग्यपूर्ण' भी करार दिया। दरअसल दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने सोमवार को अन्ना हजारे को चिट्ठी लिखते हुए उनसे निवेदन किया था कि वो आम आदमी पार्टी के खिलाफ भाजपा के आंदोलन में शामिल हों। आदेश गुप्ता ने चिट्ठी में आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक भ्रष्टाचार का नया नाम बन चुकी है।

    BJP की चिट्ठी पर Anna Hazare की दो टूक,Adesh Gupta ने किया था आंदोलन का अनुरोध | वनइंडिया हिंदी
    'आपकी चिट्ठी पढ़कर अफसोस हुआ'

    'आपकी चिट्ठी पढ़कर अफसोस हुआ'

    अन्ना हजारे ने आदेश गुप्ता की चिट्ठी का जवाब देते हुए लिखा, 'मुझे आपकी चिट्ठी पढ़कर अफसोस हुआ। पिछले छह साल से भी ज्यादा समय से केंद्र में भाजपा की सरकार है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जो पार्टी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करती है, वो 83 साल के एक ऐसे बूढ़े फकीर को आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए बुला रही है, जिसके पास ना पैसा है और ना कोई शक्ति।' अन्ना हजारे की इस जवाबी चिट्ठी को उनके फेसबुक पेज पर भी जारी किया गया है।

    'आपकी सरकार उनके खिलाफ कानूनी कदम क्यों नहीं उठाती'

    'आपकी सरकार उनके खिलाफ कानूनी कदम क्यों नहीं उठाती'

    अन्ना हजारे ने लिखा, 'दिल्ली के कई प्रशासनिक विषय केंद्र सरकार के अधीन हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दावा करते हैं कि केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए मजबूत कदम उठाए हैं। अगर दिल्ली सरकार भ्रष्टाचार में संलिप्त है तो आपकी सरकार उनके खिलाफ कड़े कानूनी कदम क्यों नहीं उठाती। भ्रष्टाचार मुक्त देश बनाने का वादा करके आपकी पार्टी 2014 में सत्ता में आई थी। लेकिन, लोगों को भ्रष्टाचार से कोई राहत नहीं मिली। जो लोग सत्ता में हैं, वो दूसरी पार्टियों में दोष निकालते हैं। कभी-कभी एक आत्मनिरीक्षण की भी जरूरत होती है।'

    अन्ना के जवाब पर भाजपा ने क्या कहा

    अन्ना के जवाब पर भाजपा ने क्या कहा

    अन्ना हजारे की इस चिट्ठी पर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'दिल्ली भाजपा के पास एक मजबूत संगठन है और पार्टी सभी प्रकार के जन आंदोलनों का नेतृत्व करने में सक्षम है। हम लोग चाहते थे कि अन्ना हजारे इस आंदोलन में शामिल हों, क्योंकि आम आदमी पार्टी का जन्म उसी आंदोलन से हुआ था, जिसका नेतृत्व अन्ना हजारे ने अरविंद केजरीवाल के साथ मिलकर किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए काफी मजबूत कदम उठाए हैं।'

    शाहीन बाग को लेकर आप ने साधा भाजपा पर निशाना

    शाहीन बाग को लेकर आप ने साधा भाजपा पर निशाना

    आपको बता दें कि इससे पहले हाल ही में दिल्ली भाजपा को उस वक्त भी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा, जब शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वाले करीब 50 आंदोलनकारी भाजपा में शामिल हो गए। इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि शाहीनबाग में हुआ विरोध-प्रदर्शन भाजपा ने ही प्रायोजित किया था।

    ये भी पढ़ें- सीतारमण के एक्ट ऑफ गॉड पर चिदंबरम का वार- क्या मैसेंजर ऑफ गॉड बनकर जवाब देंगी वित्तमंत्री?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Anna Hazare Delhi BJP Chief Adesh Gupta Aam Aadmi Party.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X