• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

आंध्र में बाढ़ का कहर: 2 हजार गांव चपेट में, 44 लोगों की जान गई, सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान

|
Google Oneindia News

चित्तूर। बंगाल की खाड़ी से सटे आंध्र प्रदेश में भारी बारिश के बाद बाढ़ से कोहराम मचा हुआ है। प्रदेश के चार जिलों - कडप्पा, चित्तूर, अनंतपुर और नेल्लोर के 119 मंडलों के कुल 1990 गांव बाढ़ की चपेट में हैं। जिनमें से 211 गांव पूरी तरह से जलमग्न हो गए। जिससे 44 लोगों की मौत हो गई, जबकि 16 अभी भी लापता हैं। यह जानकारी राज्य सरकार के एक बयान में दी गई।

आंध्र प्रदेश में बाढ़ का कहर

आंध्र प्रदेश में बाढ़ का कहर

सरकारी बयान में कहा गया कि, "इस महीने के पहले सप्ताह के बाद शुरू हुई बारिश आज भी जारी है। बारिश 16-17 तारीख को शुरू हुई। भारी बारिश ने रायलसीमा को झकझोर दिया, जैसा इतिहास में पहले कभी नहीं देखा गया। तिरुमाला की सड़कों पर, तिरुपति धाम और शहर-भर में पानी ही पानी दिखने लगा। काफी वाहन बह गए। सैकड़ों पशुओं की जान चली गई।"
"चार बसें बाढ़ में फंस गई थीं, एक आरटीसी बस नडालुरु पुल से गिर गई थी, जिससे 10 लोगों की मौत हो गई और बाकी लोगों को एसडीआरएफ टीमों ने बचाया था। 10 अन्य की मौत शिवालयम में हुई थी, जो नदी के किनारे पर है।, "

95,949 बाढ़ प्रभावित परिवारों को खाना-पानी

95,949 बाढ़ प्रभावित परिवारों को खाना-पानी

राज्य सरकार ने यह भी कहा कि चार जिलों में बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई है और 95,949 बाढ़ प्रभावित परिवारों को जरूरत की चीजें मुहैया करा रही हैं। इसने बाढ़ से पूरी तरह क्षतिग्रस्त और आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त घरों के संबंध में मुआवजे के भुगतान में तेजी लाने की भी सरकार ने घोषणा की है। एक अधिकारी ने कहा, ''जिन लोगों का घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है, उनके लिए सरकार 95,000 रुपये की दर से मुआवजे के साथ नए घर के लिए 1.8 लाख रुपये मंजूर कर रही है।'

मवेशी खोने वाले मालिकों को भी मुआवजा

मवेशी खोने वाले मालिकों को भी मुआवजा

बयान में कहा गया, "जिनके मवेशियों की मौत हुई, उसके लिए मालिकों को मुआवजे का तुरंत भुगतान किया जाए। साथ ही, मवेशियों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के आदेश दिए गए हैं। मवेशियों के चारे को भी बिना किसी कमी के कहीं भी वितरित करने का आदेश दिया गया है। फसल मुआवजे के संबंध में एक गणना को तेजी से पूरा करने का निर्देश दिया गया है,"

चार जिलों में बिजली आपूर्ति बहाल की गई

चार जिलों में बिजली आपूर्ति बहाल की गई

इसके अलावा, राज्य सरकार ने कलेक्टरों को सड़कों के पुनर्वास के संबंध में तत्काल रिपोर्ट देने और इन रिपोर्टों के प्राप्त होने पर तुरंत आकलन करने और इन कार्यों को प्राथमिकता देने का भी निर्देश दिया है।

आंध्र प्रदेश में बारिश ने ढाया कहर: अब तक 24 की गई जान, 100 से ज्यादा लोग लापताआंध्र प्रदेश में बारिश ने ढाया कहर: अब तक 24 की गई जान, 100 से ज्यादा लोग लापता

प्रभावितों को इतना कुछ दे रही सरकार

प्रभावितों को इतना कुछ दे रही सरकार

इससे पहले, सरकार ने प्रभावित जिलों में परिवारों के लिए 25 किलो चावल, 1 किलो लाल चना दाल, ताड़ का तेल 1 लीटर प्रति परिवार, प्याज (1 किलो), आलू (1 किलो) उपलब्ध कराने का फैसला किया था। सरकार ने नागरिक आपूर्ति आयुक्त और सरकार के पदेन प्रमुख सचिव को आवश्यक वस्तुओं के वितरण के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। सरकार ने कहा कि, उपरोक्‍त 4 जिलों में बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई है और 95,949 बाढ़ प्रभावित परिवारों को जरूरत की चीजें मुहैया करा रही हैं।

Comments
English summary
Andhra Pradesh floods: know how many people lost their lives due to floods caused by the unprecedented rain, and how many missing; 211 villages completely inundated
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X