• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमित शाह की चुनौती, 'लिखकर दें ओवैसी रोहिंग्या-बांग्लादेशी को बाहर करना है, मैं करूंगा', AIMIM चीफ ने दिया ये जवाब

|

HYDERABAD Civic Polls: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार (29 नवंबर) को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) कहा कि आप लिखित में दीजिए कि बांग्लादेशियों और रोहिंग्याओं को बाहर निकाला जाए और फिर देखिए केंद्र सरकार कैसे एक्शन लेती है। अमित शाह के इस बयान पर ओवैसी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, अमित शाह इस देश के पहले ऐसे गृहमंत्री होंगे, जो अवैध रूप से रह रहे लोगों को हटाने के लिए एक सांसद से "अनुमति लेना'' चाहते हैं। गृहमंत्री अमित शाह की हैदराबाद में एंट्री से निकाय चुनाव और भी ज्याादा दिलचस्प हो गया है। असदुद्दीन ओवैसी के गढ़ में बीजेपी ने अमित शाह, योगी आदित्यनाथ सहित अपने कई शीर्ष नेताओं को उतारा है।

amit shah
    GHMC Elections 2020: Hyderabad में Amit Shah ने Owaisi को rohingya पर दिया ये जवाब | वनइंडिया हिंदी

    पढ़ें अमित शाह ने ओवैसी से रोहिंग्या और बांग्लादेशी के लिया क्या कहा?

    अमित शाह ने रोहिंग्याओं के मुद्दे पर ओवैसी पर निशाना साधा था और कहा, "जब भी संसद में बांग्लादेशियों और रोहिंग्याओं की बात होती है, कौन-कौन उनका पक्ष लेता है? देश की जनता इसे जानती है।"

    अमित शाह बोले, "जब भी मैं कार्रवाई करता हूं, तो वे संसद में हंगामा खड़ा करते हैं। क्या आपने नहीं देखा है कि वह कितना जोर-जोर से इसका विरोध करते हैं? उन्हें लिखित में देने के लिए कहें कि बांग्लादेशियों और रोहिंग्याओं को बेदखल किया जाना है। मैं यह करूंगा। सिर्फ चुनाव के दौरान इसके बारे में बात करना पर्याप्त नहीं है। जब उन्हें बेदखल करने की बात संसद में होती है, तो उनका पक्ष कौन लेता है? इस देश के लोग जानते हैं। लोगों ने इसे लाइव टीवी पर देखा है।''

    असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर किया पलटवार

    समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक अमित शाह के इस बयान का पलटवार करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, "यह कब शुरू हुआ है कि गृह मंत्री एक सांसद से पूछकर कार्रवाई करेंगे? यह उनका काम है। वह पहले गृह मंत्री हैं, जो अवैध पाकिस्तानियों और अफगानिस्तानियों को हटाने की अनुमति एक सांसद से मांग रहे हैं। उनकी ही पार्टी ने सबसे पहले कहा है कि मतदाता सूची में 30,000 रोहिंग्या हैं। अगर वे अवैध रूप से रह रहे हैं, तो गृह मंत्री अमित शाह को बताना चाहिए कि वे यहां कैसे रह सकते हैं। उन्हें कार्रवाई करनी चाहिए।'' असदुद्दीन ओवैसी ने पहले टिप्पणी की थी कि "अगर भारत में अवैध रोहिंग्या हैं, तो गृह मंत्री क्या कर रहे हैं?"

    ये भी पढ़ें- तेलंगाना BJP चीफ का पलटवार, ' क्या अकबरुद्दीन ओवैसी के दादा का है पीवी घाट, हिम्मत है तो तोड़ कर दिखाओ'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Amit Shah to Asaduddin Owaisi Give in writing Bangladeshis, Rohingyas have to be evicted AIMIM reaction
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X