• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरदार पटेल न होते तो भारत न होता, उन्‍हें उतना सम्मान नहीं मिला, जितना मिलना चाहिए था-अमित शाह

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 16 अक्‍टूबर। केद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा सरदार पटेल को उतना सम्‍मान नहीं मिला, जितना उन्‍हें मिलना चाहिए था। 350 रियासतों को जोड़ने का काम अगर सरदार पटेल एक से डेढ़ साल के अंदर ना करते तो क्‍या भारत का आसित्‍व क्‍या होता। शाह ने कहा आजादी के नायकों के साथ इंसान नहीं हुआ। ये बात शाह ने अंडमान-निकोबार में कई योजनाओं का शिलान्यास करने के अवसर पर कही। इस मौके पर उनके साथ अंडमान-निकोबार के लेफ्टिनेंट गवर्नर एडमिरल डी. के. जोशी (रिटायर्ड) भी मौजूद हैं।

bjp

अमित शाह ने कहा अंडमान-निकोबार की हवाओं में वीर सावरकर और सुभाष चंद्रबोस की आत्मा बसती हैं। इन्ही महापुरुषों की वजह से आज भारत है। ये लोग ने होते तो भारत का अस्तित्व ही खत्म हो गया होता। शाह ने कहा मैने वीर सावरकर को बचपन में ही पढ़ लिया था। सावरकर बहुत ही वीर और देश के लिए सोचने वाले विचारक थे। भारत को बनाने में सरदार की अहम भूमिका है।

रणवीर सिंह ने बताया कब दीपिका पादुकोण बनेगी मां, बच्चे के नाम पर भी किया खुलासारणवीर सिंह ने बताया कब दीपिका पादुकोण बनेगी मां, बच्चे के नाम पर भी किया खुलासा

अमित शाह ने कहा ऐसे लोहपुरुष हजारों साल में जन्म लेते हैं। शाह ने कहा अगर हमारा देश समय रहते सही हाथों में नहीं जाता तो आज देश हालात कुछ और होते हम विचारधारा से बंधे हुए लोग हैं और हमारी विचारधारा महान भारत की रचना की विचारधारा है। अगर 130 करोड़ लोग आजादी के अमृत महोत्सव के इस वर्ष में छोटे छोटे संकल्प लें तो बहुत बड़ा परिवर्तन देश में आ सकता है। प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए शाह ने कहा मोदी जी ने भारत को एक नई पहचान दी है।

English summary
Amit Shah said - India would not have been there if Sardar Patel had not been there, but he did not get that much respect
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X