• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली के प्रदूषण को लेकर भड़के अर्जुन रामपाल, ट्वीट कर कहा- और कितनी तबाही की जरूरत है

|

नई दिल्ली। दिल्ली में छाई स्मॉग की चादर ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। धूल और धुएं से भरी जहरीली हवा में दिल्ली-एनसीआर के लोगों का सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में हेल्थ इमरजेंसी घोषित की जा चुकी है और निर्माण कार्यों पर रोक लग गई है। इसके साथ ही शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य के सभी स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद रखने का फैसला लिया। मौसम विभाग का कहना है कि रविवार से प्रदूषण में हल्की राहत मिल सकती है। वहीं, शनिवार को बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन रामपाल भी दिल्ली पहुंचे और चारों ओर फैले वायु प्रदूषण को लेकर चिंता जताई।

'हवा बिल्कुल भी सांस लेने लायक नहीं'

'हवा बिल्कुल भी सांस लेने लायक नहीं'

दिल्ली में फैले वायु प्रदूषण को लेकर अर्जुन रामपाल ने ट्वीट करते हुए कहा, 'अभी-अभी दिल्ली पहुंचा हूं और यहां हवा की बिल्कुल भी सांस लेने लायक नहीं है। देखकर बहुत बुरा महसूस होता है कि इस शहर को क्या हो गया है। चारों तरफ प्रदूषण और घना स्मॉग फैला हुआ है। लोगों ने मास्क पहने हुए हैं। किसी को नींद से जागने और इसपर सही कदम उठाने के लिए और कितनी ज्यादा तबाही की जरूरत है? खुद को बताइए कि आप गलत कर रहे हैं। #दिल्ली बचाओ।'

ये भी पढ़ें- अजगर से लिपटी मिली महिला की लाश, घर के अंदर बैठे थे 140 सांप

दिल्ली में आज भी प्रदूषण 'गंभीर' स्तर पर

गौरतलब है कि दिल्ली में शनिवार को भी प्रदूषण का स्तर 'गंभीर' कैटेगरी में बना हुआ है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक दिल्ली में शनिवार को सुबह 10 बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 407 दर्ज किया गया। इससे पहले शुक्रवार शाम को 4 बजे दिल्ली में एक्यूआई 484 था। वहीं, शनिवार सुबह 10 बजे ही दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक्यूआई 459 और ग्रेटर नोएडा में 452 दर्ज किया गया। शुक्रवार को शाम 4 बजे इन दोनों शहरों में एक्यूआई 496 था। मौसम विभाग की मानें तो रविवार को हवा की रफ्तार में तेजी आने से प्रदूषण के कणों का बिखराव हो सकता है।

क्या होता है एक्यूआई

क्या होता है एक्यूआई

आपको बता दें कि एक्यूआई अगर 0 से 50 के बीच है तो हवा की क्वालिटी अच्छी मानी जाती है। 51 से 100 के बीच एक्यूआई संतोषजनक माना जाता है। अगर एक्यूआई 101 से 200 के बीच है तो इसे हवा की मध्यम श्रेणी में गिना जाता है। 201 से 300 के बीच एक्यूआई का मतलब है कि हवा की गुणवत्ता खराब है। 301 से 400 के बीच एक्यूआई को बहुत खराब हवा माना जाता है। अगर एक्यूआई 401 से 500 के बीच है तो हवा की स्थिति गंभीर मानी जाती है। 500 से ऊपर एक्यूआई होने पर हवा की स्थिति बहुत गंभीर और इमरजेंसी की कैटेगरी में गिनी जाती है।

3 नवंबर से मिल सकती है राहत

3 नवंबर से मिल सकती है राहत

वहीं, मौसम विभाग की तरफ से बताया गया है कि रविवार से लोगों को प्रदूषण से राहत मिल सकती है। मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते दिल्ली और इससे सटे आसपास के जिलों में रविवार को हवा की रफ्तार में तेजी आएगी। हवा की रफ्तार बढ़ने से प्रदूषण के कणों का बिखराव होगा और लोगों को दमघोंटू माहौल से राहत मिल सकती है। केंद्र सरकार द्वारा संचालित संस्था 'सफर' के मुताबिक 3 नवंबर से पश्चिमी विक्षोभ का असर दिल्ली-एनसीआर में दिखना शुरू होगा।

ये भी पढ़ें- नवंबर में 13 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए छुट्टियों की पूरी लिस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Air Of Delhi Is Just Unbreathable, Absolutely Disgusting, Arjun Rampal On Air Pollution
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X