• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

PUBG समेत इन 275 चीनी ऐप्स पर गिर सकती है गाज, बैन लगाने की तैयारी में सरकार

|

नई दिल्ली। हाल ही में भारत ने चीन के 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया था,जिसमें सबसे लोकप्रिय एप TIK TOK भी शामिल था, तो वहीं अब एक बार फिर इंडिया पड़ोसी देश चीन के अन्य 275 ऐप्स को बैन करने की तैयारी कर रहा है,जिसमें पॉपुलर गेमिंग ऐप पबजी का भी नाम है, मीडिया में आ रही खबर के मुताबिक भारत इन ऐप्स की पूरी तरह से जांच-पड़ताल कर रहा है और ये जानने की कोशिश कर रहा है कि कहीं ये ऐप्स किसी भी तरह से राष्ट्रीय सुरक्षा या लोगों की निजता के लिए खतरा तो पैदा नहीं कर रहे हैं, अगर ऐसी कोई अनियमितता सामने आती है तो हो सकता है कि भारत इन ऐप्स को भी बैन कर दे।

    Chinese Apps Ban : PUBG समेत 275 चीनी ऐप रडार पर, Modi Government ने बनाई लिस्ट | वनइंडिया हिंदी
    चीनी इंटरनेट कंपनियों के करीब 30 करोड़ यूनीक यूजर्स

    चीनी इंटरनेट कंपनियों के करीब 30 करोड़ यूनीक यूजर्स

    एक अनुमान के मुताबिक इंडिया में चीनी इंटरनेट कंपनियों के करीब 30 करोड़ यूनीक यूजर्स हैं, ऐसे में अगर इन ऐप्स पर गाज गिरी तो ये चीन को करारा झटका होगा, 275 ऐप्स की लिस्ट में पबजी के अलावा शाओमी का जिली, अलीबाबा का अलीएक्सप्रेस, रेसो और यूलाइक ऐप जैसे लोकप्रिय ऐप्स का भी नाम है।

    यह पढ़ें: High throughput Covid labs: एक दिन में कर सकती है 10 लाख टेस्ट, जानिए सब कुछ

    भारत सरकार जारी करेगी गाइडलाइंस

    भारत सरकार जारी करेगी गाइडलाइंस

    खबर है कि भारत सरकार इन ऐप्स के लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी करने वाली है और जो ऐप्स इन दिशा-निर्देंशों का पालन नहीं करेगा वो बैन हो जाएगा। आपको बता दें कि भारत-चीन सीमा विाद के कारण इस वक्त देश में चीन को लेकर काफी गुस्सा और आक्रोश है।

    भारतीयों में चीन को लेकर काफी गुस्सा

    भारतीयों में चीन को लेकर काफी गुस्सा

    दरअसल 15 जून को गलवान घाटी में दोनों देशों की सेनाओं के बीच एक खूनी झड़प हुई थी जिसमें भारत के 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद से ही देश में बॉयकॉट चीन की बातें हो रही हैं।

     59 चीनी ऐप्स को बैन करने के पीछे कारण सुरक्षा

    59 चीनी ऐप्स को बैन करने के पीछे कारण सुरक्षा

    इससे पहले जब 59 चीनी ऐप्स को बैन करने के पीछे कारण सुरक्षा ही था, सुरक्षा एजेंसियों की दलील थी कि इन ऐप्स के जरिए भारतीयों का डेटा हैक किया जा सकता है। जिसके बाद सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए इन सभी 59 चीनी ऐप को बैन कर दिया था।

    सुरक्षा से समझौता नहीं

    आईटी मंत्रालय की ओर से कहा गया था कि ये ऐप "भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, भारत की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के प्रति पक्षपातपूर्ण थे। मंत्रालय ने इन ऐप पर प्रतिबंध लगाने के लिए आईटी एक्ट की धारा 69ए का प्रयोग किया गया है।

    यह पढ़ें: CRPF का 82वां स्थापना दिवस आज, अमित शाह करेंगे जवानों को ऑनलाइन संबोधित

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    After ban on 59 Chinese apps, 275 more in Danger Zone, list includes PubG, Read Details.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X