• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Aero India में 'मेड इन इंडिया' का जलवा, पहली बार आत्मनिर्भर फॉर्मेशन में दिखे विमान

|
Google Oneindia News

Aero India 2021: कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एयरो इंडिया शो के 13वें संस्करण का आज आगाज हो गया। खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस कार्यक्रम का उद्घाटन करने पहुंचे, तो वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर एयरो इंडिया 2021 की तारीफ की। इस बार का शो बहुत ही खास है क्योंकि इसमें बड़ी संख्या में भारत में पूरी तरह से विकसित विमानों और हेलीकॉप्टर्स का प्रदर्शन किया जा रहा है। वहीं वायुसेना के पांच विमानों ने 'आत्मनिर्भर फॉर्मेशन' में उड़ान भरी, जिसमें सिर्फ भारत में बने विमान शामिल थे।

    Aero India Show 2021: पहली बार दिखा Make in India का जलवा, देखिए जबरदस्त Video | वनइंडिया हिंदी
    ब्रह्मोस के साथ सुखोई ने दिखाई ताकत

    ब्रह्मोस के साथ सुखोई ने दिखाई ताकत

    शो की शुरूआत में सबसे पहले भारतीय वायुसेना ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल से लैस Su-30MKI को प्रदर्शित किया। वैसे तो सुखोई रूस में निर्मित विमान है, लेकिन हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड का इसमें सहयोग रहता है। वहीं जो BrahMos मिसाइल सुखोई में लगी है, उसे DRDO ने विकसित किया है। ये मिसाइल 400 किलोमीटर की दूरी तक अपने लक्ष्य पर अचूक निशाना लगाती है। इसके बाद आसमान में तीन सुखोई विमान त्रिशुल फॉर्मेशन में नजर आए।

    तेजस की अगुवाई में आत्मनिर्भर फॉर्मेशन

    तेजस की अगुवाई में आत्मनिर्भर फॉर्मेशन

    इसके बाद आत्मनिर्भर फॉर्मेशन में पांच विमान आसमान में नजर आए। जिसमें LCA तेजस अगुवाई करता दिखा। ये पूरी तरह से भारत में विकसित है, जिसका पूरा नाम लाइट कांबैक्ट एयरक्राफ्ट तेजस है। इस एयरक्रॉफ्ट को नेवी और वायुसेना दोनों के हिसाब से तैयार किया गया है। वहीं तेजस के पीछे चार छोटे एयरक्रॉफ्ट थे।

    आसमान में वायुसेना की 'आंख'

    आसमान में वायुसेना की 'आंख'

    इसके बाद भारतीय वायुसेना के एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल (AEW&C) सिस्टम एयरक्रॉफ्ट ने नेत्र फॉर्मेशन में उड़ान भरी। आम भाषा में आप इसे आसमान में वायुसेना की 'आंख' कह सकते हैं। ये एयरक्रॉफ्ट दूर से ही दुश्मन के विमानों की पहचान कर लेते हैं और उसकी जानकारी कंट्रोल रूम को देते हैं, जिसके बाद फाइटर जेट्स दुश्मन के विमानों पर कार्रवाई करते हैं।

    'Sarang' का दिखा जलवा

    'Sarang' का दिखा जलवा

    वहीं भारतीय वायुसेना की सूर्य किरण एरोबैटिक टीम और सारंग हेलीकॉप्टर ने भी एरो इंडिया में करतब दिखाए। इसके बाद अमेरिकन B-1B Lancer एयरकॉफ्ट ने भी उड़ान भरी। ये विमान अमेरिका के दक्षिण डकोटा एयरबेस से उड़ा था और 26 घंटे बाद बेंगलुरु पहुंचा।

    वायुसेना प्रमुख भदौरिया ने बेंगलुरू में उड़ाया लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर, देखिए वीडियोवायुसेना प्रमुख भदौरिया ने बेंगलुरू में उड़ाया लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर, देखिए वीडियो

    English summary
    Aero India 2021 made in india fighters in Bengaluru, Karnataka
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X