• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्रत्युषा बनर्जी का केस लड़ते-लड़ते अर्श से फर्श पर आए पैरेंट्स, एक कमरे में रहने को मजबूर

|
Google Oneindia News

मुंबई, 29 जुलाई। टेलीविजन के मशहूर शो 'बालिका वधू' फेम एक्ट्रेस प्रत्युषा बनर्जी की अचानक हुई मौत ने सभी को हैरान कर दिया था। 1 अप्रैल, 2016 में प्रत्युषा ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था, उनका शव कमरे के पंखे से लटका मिला था। अब वह तो इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन प्रत्युषा के माता-पिता अपनी बेटी के लिए लड़ रहे इंसाफ की लड़ाई में पूरी जमा-पूंजी खर्च कर चुके हैं। हालात इतने बुरे हो चुके हैं कि प्रत्युषा के माता-पिता को एक कमरे में गुजर बसर करना पड़ रहा है।

आज भी प्रत्युषा के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे माता-पिता

आज भी प्रत्युषा के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे माता-पिता

पिछले 5 सालों से एक्ट्रेस प्रत्युषा बनर्जी की मौत एक रहस्य बनी हुई है, घर-घर में 'आनंदी' के नाम से पहचान बनाने वालीं प्रत्युषा का शव पंखे पर लटका मिला था। पुलिस ने शुरुआती जांच में एक्ट्रेस की मौत को सुसाइड कहा लेकिन आज भी उनके माता-पिता इंसाफ की लड़ाई के लिए कोर्ट के चक्कर लगा रहे हैं। इस दौरान उन्होंने अपनी सारी सेविंग्स खर्च कर दी लेकिन अभी भी उन्हें इंसाफ नहीं मिला। उन्हें आज भी लगता है कि उनकी बेटी ने सुसाइड नहीं बल्कि उसकी हत्या की गई थी।

प्रत्युषा के पिता ने बयां किया अपना दर्द

प्रत्युषा के पिता ने बयां किया अपना दर्द

प्रत्युषा के पापा का नाम शंकर बनर्जी और मां का नाम सोमा बनर्जी है। उन्होंने जमशेदपुर से अपनी बेटी को मुंबई भेजा था इंडस्ट्री में नाम कमाने के लिए, लेकिन किसे पता था कि प्रत्युषा इतनी दूर चली जाएंगी जहां से लौट कर कोई नहीं आता। प्रत्युषा के पिता शंकर बनर्जी ने बीते 5 सालों में आई चुनौतियों और मुश्किलों का दर्द बयां किया है। बेटी को खो चुके पिता के पास अब एक रुपया भी नहीं बचा है, कर्ज लेने तक की नौबत आ गई है।

'सबकुछ गंवा दिया, एक रुपया भी नहीं बचा'

'सबकुछ गंवा दिया, एक रुपया भी नहीं बचा'

भावुक होते हुए शंकर बनर्जी ने इंडिया टुडे से कहा, हमारा तो सबकुछ लुट चुका है, 'अब किस बारे में बात करें। इस हादसे के बाद ऐसा लगता है जैसे कोई भयानक तूफान आया हो और हमारा सबकुछ लेकर चला गया। कोर्ट में केस लड़ते-लड़ते हमने अपना सबकुछ गंवा दिया, अब हमारे पास एक रुपया भी नहीं है। नौबत अब कर्ज लेने की आ गई है।'

अर्श से फर्श पर आ गए हैं प्रत्युषा के माता-पिता

अर्श से फर्श पर आ गए हैं प्रत्युषा के माता-पिता

दिवंगत एक्ट्रेस के पिता ने आगे कहा, 'प्रत्युषा के अलावा हमारा कोई सहारा नहीं था, वही हमें अर्श तक लेकर गई और उसके जाने के बाद हम अब फर्श पर आ गए हैं। हम लोग अब एक करमें में रहने को मजबूर है, जिंदगी जैसे-तैसे काट रहे हैं। इस केस ने हमारा सबकुछ छीन लिया।' शंकर बनर्जी ने बताया कि आर्थिक स्थिति कमजोर होने की वजह से प्रत्युषा की मां चाइल्ड केयर सेंटर में नौकरी कर रही हैं, वहीं वो खुद कहानियां लिखते हैं ताकि कहीं बात बन जाए।

'मरते दम तक लड़ता रहूंगा'

'मरते दम तक लड़ता रहूंगा'

शंकर बनर्जी ने आगे कहा, 'कितनी भी बुरी स्थिति हो हम हिम्मत नहीं हारे हैं, एक पिता कभी नहीं हारता। प्रत्युषा की जीत ही हमारी एक आखिरी उम्मीद है। मैं प्रत्युषा के हक के लिए मरते दम तक लड़ता रहूंगा, मुझे यकीन है हम एक दिन जरूर जीतेंगे।' बता दें कि प्रत्युषा की मौत मामले में उनके ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह पर गंभीर आरोप लगे थे। प्रत्युषा के परिवार ने उन पर एक्ट्रेस को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था। बाद में राहुल राज सिंह को बॉम्बे हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई।

यह भी पढ़ें: 'अनन्या पांडे को एक और चंकी पांडे नहीं बनाना चाहता', जानिए बेटी को लेकर पापा चंकी ने क्यों कहा ऐसा

English summary
financial condition of actress Pratyusha Banerjee parents very bad
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X