• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

LoC पर शहीद सिपाही कुलदीप जाधव का 9 दिन के बेटे ने किया अंतिम संस्‍कार

|

नासिक। जम्‍मू कश्‍मीर में पिछले दिनों 25 साल के सेना के जवान कुलदीप नंदकिशोर जाधव शहीद हो गए। राजौरी जिले में ड्यूटी पर तैनात जाधव उस समय शहीद हो गए जब वह पाकिस्‍तान से देश की सीमा की रक्षा कर रहे थे। पाक की तरफ से अचानक हुए हमले का जवाब जाधव ने बहादुरी से दिया। वह मोर्चे पर डटे रहे लेकिन कुछ समय बाद ही उन्‍होंने दम तोड़ दिया। शनिवार को उनके निधन की खबर उस समय घर पहुंची थी जब घर में उनके बेटे की खुशी का माहौल था। सिपाही जाधव के मासूम बेटे ने अपने पिता को श्रद्धांजलि दी है और इस तस्‍वीर को देखकर हर कोई भावुक हो रहा है।

Kuldeep Jadhav-200.jpg

यह भी पढ़ें-कश्‍मीर में शहीद मेजर की पत्‍नी अब आर्मी ऑफिसर

रविवार को छुट्टी पर निकलने वाले थे जाधव

जाधव महाराष्‍ट्र के नासिक जिले के तहत आने वाले सतना तहसील के रहने वाले थे। रविवार को डिस्‍ट्रीक्‍ट आर्मी ऑफिसर की तरफ से उनके शहीद होने की पुष्टि की गई। सोमवार को उनका शव रात करीब 10 बजे मुंबई पहुंचा और यहां से उनके घर ले जाया गया। मंगलवार को उनके घर के बाहर सिपाही जाधव को श्रद्धांजलि देने वालों और उनके अंतिम दर्शन करने वालों की भीड़ मौजूद थी। जाधव ने कुछ ही दिन पहले अपने घर वालों से फोन पर बात की थी। उनके घर में माता-पिता के अलावा उनका बेटा और पत्‍नी हैं। राजौरी में लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पर तैनात जाधव ने अपने घरवालों को बताया था कि वह अपने नवजात बेटे को देखने के लिए घर आएंगे। रविवार से उनकी छुट्टियां शुरू हो रही थीं और वह गांव पिंगलवाड़े लौटने वाले थे। उनकी अंतिम इच्‍छा थी कि वह एक बार अपने बेटे को देख सकें लेकिन यहह पूरी नहीं हो सकी। कुलदीप जाधव, चार साल पहले सेना में शामिल हुए थे। जाधव 16 मराठा बटालियन के साथ तैनात थे। उनके 9 दिन के बेटे ने अपने पिता का अंतिम संस्‍कार किया है।

जारी हैं पाकिस्‍तान की नापाक हरकतें

एलओसी पर पाकिस्तान की नापाक कोशिशें लगातार जारी हैं। पिछले दिनों सेना और सुरक्षाबलों ने नगरोटा में बड़े हमले की साजिश को विफल किया है। इंटेलीजेंस एजेंसियों की मानें तो पाकिस्तान अब ड्रोन से घुसपैठ करने को कोशिश कर रहा है और रेकी कर रहा है। कुछ दिनों पहले पाकिस्तान के ड्रोन को मेंढर और मनकोट सेक्टर में दिखाई दिया है जिसकी कुछ तस्वीरें भी सामने आईं. दूसरी तरफ पाकिस्तान लगातार सीमा पर युद्ध विराम का उल्लंघन कर रहा है। जम्मू-कश्मीर में पुंछ के मेंढर सेक्टर में 21 नवंबर को पाकिस्तान का ड्रोन दिखाई दिया था। भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से फायरिंग के दौरान ये ड्रोन नजर आया था। इसके बाद पुंछ सेक्टर में शनिवार शाम 6:15 पर फायरिंग शुरू हुई और रात करीब 9:30 बजे तक चली थी। इसी बीच आसमान में एक पाकिस्तानी ड्रोन उड़ता देखा गया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
9 days old son of sepoy Kuldeep Jadhav comes to receive his father wrapped in tricolour flag.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X