• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

आपके फोन पर भी आया 6 नंबरों वाला कोड तो रहें अलर्ट, लोगों का WhatsApp हो रहा हैक

|

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते भारत समेत कई देशों में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। कोरोना से खुद को बचाने के लिए लोग भी एक दूसरे से दूरी बना रहे हैं और सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर रहे हैं। ऐसे में लोग इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी समय बिता रहे हैं। इंटरनेट के माध्यम से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए भी वह ऑनलाइन एक-दूसरे से मिल रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लॉकडाउन के समय आपका ज्यादा ऑनलाइन रहना भी खतनाक साबित हो सकता है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

व्हाट्सएप चलाना पड़ सकता है महंगा

व्हाट्सएप चलाना पड़ सकता है महंगा

घर पर खाली समय में लोग सोशल मीडिया मैसेजिंग एप व्हाट्सएप पर इन दिनों लोग काफी समय बिता रहे हैं। ऐसे बहुत कम ही होंगे जो व्हाट्सएप यूज ना करते हो, लेकिन लॉकडाउन में लोगों के ज्यादा व्हाट्सएप चलाने का फायदा अब हैकर्स उठा रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन में लोगों के अकेलेपन का फायदा उठाते हुए हैकर्स 'सोशल हैकिंग' नाम कि एक्टिविटी को अंजाम दे रहे हैं।

6 डिजिट वाला कोड भेजते हैं हैकर

6 डिजिट वाला कोड भेजते हैं हैकर

प्राप्त जानकारी के मुताबिक इन दिनों हैकर्स मासूम लोगों के व्हाट्सएप पर उनके दोस्त, रिश्तेदार बनकर लूट रहे हैं, कुछ तो उनके निजी जिंदगी में भी झांक रहे हैं। बता दें कि हैकर्स को सोशल हैकिंग के लिए 6 डिजिट के एक सिक्योरिटी वेरिफिकेशन कोड की जरूरत होती है जो किसी भी यूजर के फोन पर मैसेज के द्वारा भेजी जाती है। हैकर्स सोशल हैकिंग को अंजाम देने के लिए उन्हीं अकाउंट से यूजर्स को झासा देते हैं जिन्हें पहले से ही हैक किया गया हो।

आसान शिकार की तलाश में रहते हैं हैकर्स

आसान शिकार की तलाश में रहते हैं हैकर्स

आपकी लूटने की फिराक में हैकर्स खुद को ऐसे ही पेश करते हैं जैसे की वह आपके अच्छे पहचान का दोस्त या रिश्तेदार हो। अपने मनसूबे को अंजाम देने के लिए पहले वह अपने शिकार का विश्वास जीतते हैं फिर उससे व्हाट्सएप अकाउंट लॉगइन करने में परेशानी होने का बहाना बनाते हैं। हैकर अपने शिकार से कहता है कि वह अपने अकाउंट नहीं खोल पा रहा क्योंकि उसके फोन में वन-टाइम कोड नहीं आ रहा। हैकर अपने शिकार से कहता है कि कोड न मिलने की वजह से उसने अपना 6 अंको वाला कोड उसे भेजा है।

निजी फोटो और चैट देखकर करते हैं ब्लैकमेल

निजी फोटो और चैट देखकर करते हैं ब्लैकमेल

असल में जो कोड यूजर के प्राप्त होता है वह उसके सोशल मीडिया अकाउंट का ही होता है। लेकिन कई बार लोग ध्यान नहीं देते और जल्दबाजी में वह 6 अंको वाला कोड हैकर्स को बता देते हैं। फिर जैसे ही वह कोड उन्हें मिलता है वह अपने शिकार के अकाउंड पर पूरा कंट्रोल कर लेते हैं। वॉट्सऐप हैक करने और उसका एक्सेस मिलने के बाद हैकर्स यूजर के निजी फोटो, चैट और वीडियो लेकर उसका गलत इस्तेमाल करते हैं, कई लोगों को ब्लैकमेल भी किया गया है।

Hello...एसपी साहब पिज्जा दिलवा दो, लॉकडाउन में पुलिस के पास रोज आ रहे ऐसे-ऐसे कॉल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
6-digit code on your phone too, be careful WhatsApp is being hacked by hackers
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X