• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

निर्भया केस: दोषी मुकेश की याचिका पर ट्रायल कोर्ट ने राज्य सरकार को भेजा नोटिस, कल सुनवाई

|
    Nirbhaya case: Death Warrent मामला फिर पहुंचा Patiala House Court, Thursday सुनवाई |वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। निर्भया गैंगगरेप के दोषियों को दिल्ली की एक अदालत से डेथ वारंट जारी होने के बाद तिहाड़ जेल में फांसी की तैयारियां शुरू हो चुकी है। कोर्ट ने दोषियों को 22 जनवरी, 2020 को सुबह 7 बजे फांसी पर लटकाने का आदेश दिया है। वहीं, फांसी से बचने के लिए दोषी हर तरह के दांव पेंच का इस्तेमाल कर रहे हैं। चारों दोषियों में से एक मुकेश के वकील ने निचली अदालत का रुख कर 22 जनवरी को फांसी की सजा टालने की मांग की थी जिसके बाद कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है।

    फांसी टालने को लेकर दायर की याचिका

    फांसी टालने को लेकर दायर की याचिका

    गौरतलब है कि निर्भया गैंगगरेप के दोषियों को जल्द फांसी दिए जाने को लेकर निर्भया की मां ने दिल्ली की पटियाला कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट में दोषियों को 22 जनवरी को फांसी देने का आदेश दिया था। डेथवारंट जारी होने के बाद दोषी के वकील लगातार फांसी को टालने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए दोषी मुकेश के वकील ने ट्रायल कोर्ट में दया याचिका का हवाला देते हुए फांसी का फैसला टालने की अपील की है।

    जेल नंबर 3 में होगी फांसी

    जेल नंबर 3 में होगी फांसी

    कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए राज्य सरकार को नेटिस जारी किया है। इसके अलावा कोर्ट गुरुवार यानी 16 जनवरी, 2020 को दोपहर दो बजे मामले की सुनवाई करेगा। कोर्ट ने 2012 के दिल्ली गैंगरेप पीड़िता के माता-पिता से भी जवाब मांगा है। बता दें कि चारों दोषियों को जेल नंबर 3 में फांसी दी जानी है। वहीं, दिल्ली सरकार ने भी दोषी मुकेश की दया याचिका को खारिज कर उपराज्यपाल के पास भेज दिया है। डिप्टी सीएम ने इस मामले में कहा कि वे निर्भया के दोषियों को सजा दिलाने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।

    HC ने डेथ वारंट पर रोक लगाने से किया था इनकार

    निर्भया केस में दोषी मुकेश को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। दिल्ली हाईकोर्ट ने पटियाला हाउस कोर्ट द्वारा जारी किए गए डेथ वारंट पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने दोषी मुकेश के वकील को निचली अदालत में जाने को कहा है। दोषी मुकेश सिंह ने पटियाला हाउस कोर्ट द्वारा जारी डेथ वारंट को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। मुकेश की डेथ वारंट को चुनौती देने वाली याचिका पर दिल्‍ली हाई कोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई।

    यह भी पढ़ें: शिवसेना ने छत्रपति शिवाजी के वंशज उदयनराजे भोसले से मांगा उनके जीवन का सबसे बड़ा सबूत

    English summary
    2012 Delhi gangrape case trial court has issued notice to State hearing to be held tomorrow
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X