• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विजय दिवस: BSF जवानों ने खास अंदाज में शहीदों को दी श्रद्धांजलि, पाकिस्तान सीमा पर लगाई 180 की दौड़

|

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच पूर्वी पाकिस्तान को लेकर 1971 में एक भीषण युद्ध हुआ था। जिसमें पाक के हाथ करारी शिकस्त लगी, साथ ही पूर्वी पाकिस्तान आजाद होकर बांग्लादेश बना। हर साल 16 दिसंबर को इस जीत का जश्न मनाया जाता है। साथ ही शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी जाती है। रविवार और सोमवार की रात को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने खास अंदाज में 1971 के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि दी। साथ ही इसका एक वीडियो भी जारी किया है।

1971

राजस्थान के बीकानेर से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 180 किलोमीटर की रिले रेस आयोजित की गई। ये रेस 13 और 14 दिसंबर की रात आयोजित हुई। जिसमें बीएसएफ जवानों ने फेंसिंग के पास दौड़ लगाई। इस दौरान उनके पीछे एक वाहन रोशनी दिखाते हुए चलता रहा। बाद में अनुपगढ़ पहुंचकर रिले रेस का अंत हुआ। बीएसएफ के मुताबिक जवानों ने 11 घंटे से कम वक्त में 180 किलोमीटर की इस रिले रेस को पूरा कर दिया था।

इंडियन आर्मी ने प्रिंस एकेडमी सीकर को सौंपा 1971 में पाकिस्तान को धूल चटाने वाला युद्धक टैंक, जानिए क्यों?

3900 जवान हुए थे शहीद

वैसे तो भारत पाकिस्तान के बीच 4 बार युद्ध हुए, लेकिन 1971 का युद्ध काफी अहम था। इस दौरान भारतीय सेना ने पूर्वी पाकिस्तान में हमला कर पाकिस्तानी सैनिकों को वहां खदेड़ा। जिसके बाद पूर्वी पाकिस्तान आजाद होकर बांग्लादेश बना। इस युद्ध में पाकिस्तान की हालत खराब हो गई थी। जिस वजह से उसके 93,000 सैनिकों ने एक साथ सरेंडर किया था। ये दुनिया के इतिहास का सबसे बड़ा सरेंडर था। हालांकि इस युद्ध में 3,900 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे, जबकि घायलों की संख्या 9,851 थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
1971 vijay diwas: bSF relay race at pakistan border Bikaner, Rajasthan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X