कोटखाई में हालात बेकाबू, पुलिस के तीन वाहन फूंके, IG जान बचाकर भागे

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। हिमाचल प्रदेश में कोटखाई के हालात अब भी बेकाबू बने हुये हैं। कोटखाई थाना के पास पुलिस के तीन वाहन प्रर्दशनकारियों ने फूंक दिये हैं। माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। पुलिस वाले अपनी जान बचाकर भागते देखे गये। खुद आईजी जहूर जैदी को दूसरे पुलिस वालों के साथ थाना के पिछले दरवाजे से भागना पड़ा। लेकिन भीड़ ने पुलिस के वाहन भी आग के हवाले कर दिये।

Read Also: कोटखाई केस की गूंज लोकसभा में, CM ने दी आरोपी मर्डर पर सफाई

कोटखाई में हालात बेकाबू, पुलिस वाहन फूंके, IG जान बचाकर भागे

थाने के अंदर करीब 25 पेटी शराब की बोतलों को जनता ने लूटकर आग के हवाले कर दिया है व थाने के अंदर रखा दूसरा सामान भी जला दिया गया है। खिड़कियां व दरवाजे भी तोड़ दिये गये हैं। दो घायल पुलिस वालों को शिमला रेफर किया गया है।

कोटखाई में हालात बेकाबू, पुलिस वाहन फूंके, IG जान बचाकर भागे

इस बीच सीएम वीरभद्र सिंह अपना दौरा रद्द कर सीधे शिमला वापिस लौट रहे हैं। प्रदेश के डीजीपी व चीफ सेक्रेटरी को सीएम आफिस में बुलाया गया है। उधर भाजपा की ओर से कल बुलाये गये शिमला बंद को देखते हुये दोबारा हिंसा भड़कने का अंदेशा जताया जा रहा है।

कोटखाई में हालात बेकाबू, पुलिस वाहन फूंके, IG जान बचाकर भागे

दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बुधवार को जिला मंडी के पधर में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिमला जिले के कोटखाई में स्कूली छात्रा से गैंगरेप मर्डर केस में संलिप्त अपराधियों को कड़ी सजा दी जाएगी, ताकि उसे न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पूर्व में विशेष जांच दल गठित किया था तथा इसके उपरान्त उन्होंने स्वयं प्रधानमंत्री को इस मामले में सीबीआई से जांच करवाने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि इस मामले में हर संभव कदम उठाए जा रहे हैं और मामले की जांच के पश्चात ही न्यायालय सज़ा व न्याय का फैसला सुनाएगा। उन्होंने कहा कि इस मामले को भाजपा ने राजनीति का मुद्दा बना रही है, जो अनुचित है।

कोटखाई में हालात बेकाबू, पुलिस वाहन फूंके, IG जान बचाकर भागे

उन्होंने कहा कि एक नाबालिग लड़की की मृत्यु पर राजनीति करना बेहद शर्मनाक है तथा इससे दिवंगत आत्मा को शांति नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दोषियों को पकड़ने व इस जघन्य अपराध के लिए उन्हें फांसी देने के लिए प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दुर्लभ मामले की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए मीडिया को इस मामले को बढ़ा-चढ़ा कर पेश करने से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि कानून प्रणाली इस मामले में सक्रिय है तथा शीघ्र ही सच्चाई सामने आ जाएगी।

Read Also: कोटखाई केस आरोपी की हत्या के बाद थाने में लगाई आग, भारी बवाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Situation in Kotkhai out of control on gang rape issue.
Please Wait while comments are loading...