कोटखाई केस आरोपी की हत्या के बाद थाने में लगाई आग, भारी बवाल

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। हिमाचल प्रदेश के कोटखाई में स्कूली छात्रा से गैंगरेप व मर्डर मामले में एक आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत के बाद पूरे जिला शिमला में हालात बेकाबू हो गये हैं। शिमला से लेकर कोटखाई तक जगह-जगह हत्या के विरोध में धरने-प्रर्दशन हो रहे हैं। ठियोग, कोटखाई, ढली व फागू में लोग सड़कों पर उतरकर नारेबाजी कर रहे हैं जिससे यातायात ठप होकर रह गया है। प्रर्दशन कर रहे लोग सरकार व पुलिस के खिलाफ नोरबाजी करने लगे। कोटखाई थाना के बाहर जब एसआईटी चीफ भजन देव नेगी पंहुचे तो उग्र भीड़ ने उन्हें घेर लिया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिये हवाई फायर किया तो मामला भड़क गया। आक्रोशित भीड़ ने थाने पर हमला बोल दिया व थाने को आग लगा दी। पुलिस थाने में अभी भी पुलिस वाले अपनी जान बचाने के लिये बंद हैं।

Read Also: कोटखाई गैंगरेप-मर्डर केस में अहम किरदार नेपाली की लॉकअप क्यों की गई हत्या?

थाने पर बोला हमला, लाग दी आग

थाने पर बोला हमला, लाग दी आग

दरअसल बुधवार की सुबह जैसे ही पुलिस लॉकअप में नेपाली आरोपी की हत्या की खबर आग की तरह इलाके में फैली तो गुस्साये लोग कोटखाई थाना के बाहर जमा होने लगे। कुछ ही देर में हालात बेकाबू हो गये। पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए लोगों ने बुधवार को कोटखाई थाने पर हमला कर दिया व भारी पथराव के चलते थाने की खिड़कियां व शीशे टूट गये हैं। थाने के बाहर लगी भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवाई फायर भी किए, जिसके बाद तो हालात ओर बिगड़ गए। लोग बेकाबू हो गए। उन्होंने थाने पर फिर हमला बोल दिया।

लोगों के साथ हुई झड़प में पुलिसवाले घायल

लोगों के साथ हुई झड़प में पुलिसवाले घायल

हाथापाई में पुलिस वालों को भी चोटें आई हैं। घायल पुलिस जवानों को कोटखाई अस्पताल लाया गया है बाकी पुलिस वालों ने अपने-आपको थाने के अंदर बंद कर लिया है। इससे पहले स्थिति बिगड़ती देख पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज कर दिया। इस दौरान कई लोगों को चोटें भी आई हैं। बहरहाल, इससे पहले लोगों की भीड़ बाजार में जमा हुई और फिर देखते ही देखते ही लोगों का हुजूम थाने की तरफ बढ़ रहा है। इस मौके पर भाजपा नेता पूर्व मंत्री नरेंद्र बरागटा भी लोगों के साथ थाने का घेराव करने पहुंचे।

आरोपी के लॉकअप में मर्डर के बाद भड़का आक्रोश

आरोपी के लॉकअप में मर्डर के बाद भड़का आक्रोश

पहले ही लोग कोटखाई की स्कूली छात्रा के गैंगरेप मर्डर केस में पकड़े गए आरोपियों को लेकर नाखुश है और अब थाने में हुई आरोपी की मौत के बाद गुस्सा और भड़क गया है। लोगों ने पहले तो सरकार के खिलाफ नारेबाजी की, फिर हालात बिगड़े और लोग थाने पर कूच कर गए। कोटखाई में लोगों ने थाने का घेराव किया है, वहीं ढली में लोगों ने नेशनल हाईवे को जाम कर दिया है। नेपाली मूल के सूरज की इसी थाने में मौत हुई है। इससे लोगों का गुस्सा और भड़क गया है। ढली में लोगों ने मुख्य मार्ग को रोक दिया है, जिससे सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई हैं। थाने में आरोपी की मौत के बाद पुलिस के लिए हालात संभालना काफी मुश्किल सा हो गया है। इस बीच भाजपा ने कल शिमला जिला में बंद का आह्वान किया है। वहीं शिमला में भी पुलिस रिर्पोंटिंग रूम के बाहर भाजपा ने धरना शुरू किया व जबरदस्त नोरबाजी कर धारा 144 का उलंघन किया है।

जांच के दायरे में आए पुलिस कर्मचारी

जांच के दायरे में आए पुलिस कर्मचारी

कोटखाई गैंगरेप मर्डर मामले के आरोपी की कोटखाई थाना में मौत के बाद पुलिस कर्मचारी जांच के दायरे में आ गए हैं। कोटखाई थाना के सारे स्टाफ को लाइन हाजिर कर दिया गया है। बहरहाल, कोटखाई के स्कूली छात्रा के गैंगरेप मर्डर मामले में पुलिस कस्टडी में एक आरोपी सूरज की हत्या के बाद कोटखाई थाना के सभी जवान लाइन हाजिर किया गया हैं। इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए सभी कर्मियों को पुलिस लाइन भेज दिया गया है।

हाईकोर्ट में सीबीआई जांच को लेकर सुनवाई

हाईकोर्ट में सीबीआई जांच को लेकर सुनवाई

एसपी शिमला डीडब्लयू नेगी के अनुसार देर रात गैंगरेप के आरोपी राजेंद्र और सूरज के बीच मारपीट हो गई, जिसमें सूरज गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस जवान उसे ठियोग अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मामले की सूचना मिलते ही आईजी साउथ रेंज जहूर जैदी भी मौके पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच के बाद थाने के हर कर्मी को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

आरोपी के खिलाफ दर्ज है 302 के तहत मामला

हत्या करने वाले राजू के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया। बुधवार को इस मामले पर हिमाचल हाईकोर्ट भी बड़ा फैसला लेने वाला है। कोर्ट सीबीआई को इस मामले की जांच के आदेश दे सकता है। हिमाचल सरकार ने कोर्ट से मामले की जल्द जांच के लिए सीबीआई को आदेश देने की मांग की है। मामले की न्यायिक जांच भी शुरू हो गई है। थाने में जाकर इस मामले से संबंधित तथ्य जुटाए जा रहे हैं।

Read Also: कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस: सीबीआई जांच से पहले लॉकअप में नेपाली की हत्या से वीरभद्र सरकार पर उठे सवाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Police station fired after Kotkhai gang rape accused murdered.
Please Wait while comments are loading...