• search
हिमाचल प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

परिवार कर रहा था फौजी बेटे की शादी की तैयारी, लेकिन सरहद से आई उसकी शहादत की खबर

|

हमीरपुर। हिमालच के हमीरपुर जिले का एक और लाल आतंकवादियों से मुठभेड़ में शहीद हो गया। यह मुठभेड़ जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में हुई। जिसमें हमीरपुर जिला के गलोड गांव के रहने वाले रोहिन कुमार (उम्र 24 साल) सपुत्र रसील कुमार को आतंकवादियों की गोली लगी।

गलोड गांव का लाल शहीद

गलोड गांव का लाल शहीद

संवाददाता ने बताया कि, रोहिन के घरवाले उसकी शादी की तैयारी कर रहे थे। मगर उसके शहीद होने का समाचार मिलते सारा गांव गमगीन हो गया। घर पर मातम पसर गया है। परिजनों के मुताबिक, रोहिन की नवंबर में शादी होनी थी। रोहिन चार साल पहले ही सेना में भर्ती हुआ था। अब रोहिन के पार्थक शरीर के देर शाम तक गांव में पहुंचने की उम्मीद है और उसके बाद गांव के ही शमशानघाट में रोहिन का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

चार साल पहले हुआ था भर्ती

चार साल पहले हुआ था भर्ती

शहीद रोहिन के पिता रसील कुमार ने बताया कि बेटे ने बचपन से ही फौज में जाने का सपना मन में पाले हुए थे। अब वह हमारे बीच नहीं रहा। हमें बेटे की शहादत पर गर्व है। परिवार के लोग उसकी बहादुरी के किस्से जानते थे।

परिजनों की पीड़ा

परिजनों की पीड़ा

रोहिन के चाचा अनिल वर्मा बोले कि, भतीते के शहीद होने से हमें बहुत चोट पहुंची है और पूरा परिवार सदमे में है। सरकार आर-पार की लडाई की बात करती है, लेकिन ऐसा असल में होता नहीं है। इसलिए, आए दिन कहीं न कहीं हमारे फौजी शहीद हो रहे हैं।

अक्‍साई चिन में चीन के 50,000 जवान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Himachal Pradesh's Hamirpur army jawan rohin kumar (24) martyred at punch [jammu and kashmir]
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X