कोटखाई गैगरेप: CBI ने किया सूरज मर्डर को सुलझाने के दावा, हाईकोर्ट में पेश की स्टेटस रिपोर्ट

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। हिमाचल हाईकोर्ट में कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस के आरोपी सूरज की हत्या के मामले की सुनवाई हुई व सीबीआई ने हाईकोर्ट में सूरज की हत्या के मामले पर अपनी स्टेटस रिपोर्ट पेश की। मामले की अगली सुनवाई 20 दिसंबर को होगी। जस्टिस संजय करोल और जस्टिस संदीप शर्मा के समक्ष जांच एजेंसी ने अपनी स्टेट्स रिपोर्ट सौंपते हुये दावा किया कि सूरज की हवालात में हत्या के मामले को सुलझा लिया गया है। हवालात में हत्या के मामले को सुलझाने से ही कोटखाई मामले की असलियत सामने आयेगी।

कोर्ट में चार्जशीट पेश

कोर्ट में चार्जशीट पेश

सीबीआई ने पिछले दिनों 8 निलंबित पुलिस आरोपी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ जिला कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी है। डी डब्ल्यू नेगी के खिलाफ भी अलग से केस चल रहा है। 85 दिनों से ज्यूडिशियल कस्टडी में चल रहे आरोपी पुलिसवालों का कच्चा चिट्ठा कोर्ट के समक्ष रखा गया है। दिलचस्प बात यह है कि आरोपियों को 90 दिनों के बाद जमानत मिलने के सपने पर पानी फिर गया है। अब न्यायालय में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चलेगा। आरोपी सूरज की हत्या में जिसकी जो भूमिका होगी उसी के मुताबिक उसे सजा भुगतनी पड़ेगी।

गौरतलब है कि सूरज की हवालात में हत्या से सबंधित यह पहली स्टेटस रिपोर्ट होगी और यह पहला मौका होगा जब सूरज के मामले में सुनवाई हाईकोर्ट में होगी। वहीं 20 दिसंबर को कोटखाई गैंगरेप मर्डर मामले पर सुनवाई होगी और सीबीआई जांच की स्टेटस रिपोर्ट भी कोर्ट में पेश करेगी। हलांकि सीबीआई अभी तक कोटखाई मामले में चार्जशीट पेश नहीं कर सकी है। वहीं 25 नवंबर को सीबीआई ने जिला अदालत में चालान पेश किया था। 600 पन्नों के इस चालान में सीबीआई ने सूरज की हत्या मामले के सबूतों और साक्ष्यों को रखा है। इसी के साथ आईजी जहूर जैदी, एसपी शिमला रहे डी डब्ल्यू नेगी सहित 9 पुलिस वालों को जिला अदालत ने 2 सप्ताह की जुडिशियल कस्टडी में भेज दिया है। अब सभी आरोपी 7 दिसम्बर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में रहेंगे।

बहुचर्चित मामले का करेगी खुलासा

बहुचर्चित मामले का करेगी खुलासा

कोटखाई पुलिस स्टेशन की हवालात में हत्या मामले में चालान पेश किए जाने के बाद अब सीबीआई का फोकस कोटखाई गैंगरेप और मर्डर केस पर है। ऐसे में माना जा रहा है कि जांच एजेंसी इस बहुचर्चित मामले में भी जल्द बड़ा खुलासा कर सकती है। मामले की छानबीन के तहत सीबीआई की एक टीम इन दिनों कोटखाई में ही डेरा डाले हुए है और जांच टीम द्वारा पूछताछ का दौर जारी है। हालांकि कोटखाई केस में सीबीआई अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं कर पाई है और एसआईटी द्वारा जिन लोगों को इस मामले में पकड़ा गया था, वे भी जमानत पर चल रहे हैं, ऐसे में सीबीआई हर पहलू को गंभीरता से खंगाल रही है। सूत्रों की माने तो हवालात में हत्या की जांच में सामने आए कुछ तथ्यों को भी सीबीआई स्कूली छात्रा से रेप व मर्डर केस से जोड़ कर छानबीन कर रही है।

6 जुलाई को हुई थी घटना

6 जुलाई को हुई थी घटना

बीते 4 जुलाई को स्कूल से घर वापस लौटते समय कोटखाई की स्कूली छात्रा अचानक लापता हो गई थी तथा 6 जुलाई की सुबह उसका शव दांदी जंगल में पड़ा मिला था। इस मामले में सबसे पहले पुलिस ने जांच अमल में लाई थी। इसके बाद यह मामला एसआईटी को सौंपा गया। इसके बाद एस.आई.टी. ने मामला सुलझाने का दावा करते हुए 6 लोगों को गिरफ्तार किया। इसी बीच यह केस सीबीआई के सुपुर्द कर दिया गया लेकिन उससे पहले पुलिस लॉकअप में एक आरोपी सूरज की हत्या हो गई, ऐसे में सीबीआई ने बीते 22 जुलाई को कोटखाई मर्डर और रेप केस तथा पुलिस लॉकअप हत्याकांड को लेकर अलग-अलग मामले दर्ज किए।

2 मामले कर रखे हें दर्ज

2 मामले कर रखे हें दर्ज

सीबीआई ने कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस तथा पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत को लेकर 2 अलग-अलग मामले दर्ज किए थे। इसी कड़ी में पुलिस हिरासत में हत्या के मामले पर सी.बी.आई. ने एस.आई.टी. के मुखिया आई.जी. जहूर जैदी सहित अन्य पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार कर बड़ी कार्रवाई अमल में लाई थी। एस.आई.टी. के संबंधित सदस्यों के खिलाफ जांच एजैंसी ने अदालत में चालान पेश किया है और सभी आरोपी जुडिशियल कस्टडी में है। हवालात में हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए। जिला शिमला के पूर्व एसपी डी.डब्लयू. नेगी के खिलाफ जांच एजेंसी अलग से चालान पेश करेगी। नेगी भी वर्तमान में ज्यूडिशियल कस्टडी में है। इस मामले में गिरफ्तार होने वाले वह 9 वें आरोपी हैं।

Read Also: VIDEO: भाजपाइयों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, रो पड़े BJP जिलाध्यक्ष

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CBI submitted status report on Suraj Murder case in Himachal Pradesh.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.