• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कोरोना से धंधा हुआ चौपट तो कर्ज लेने पहुंचा चाय वाला, बैंक ने कहा- तुम पर तो पहले से 50 करोड़ का लोन है

|

कुरुक्षेत्र। हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आपके भी होश उड़ जाएंगे। दरअसल, यहां एक चाय बेचने वाले दुकानदार को बैंक ने 50 करोड़ रुपए का डिफॉल्टर बना दिया है। जबकि चाया विक्रेता के मुताबिक, उसने बैंक से कभी कोई लोन लिया ही नहीं, फिर भी उसे 50 करोड़ का कर्जदार बना दिया गया। अपने ऊपर 50 करोड़ रुपए का कर्ज सुनकर चाय विक्रेता के होश उड़ गए है।

    Haryana में चाय वाला निकला बैंक का 50.76 करोड़ का कर्जदार, जानिए कैसे हुआ खुलासा | वनइंडिया हिंदी
    कोविड-19 के चलते खाने के लिए भी नहीं बचे थे पैसे

    कोविड-19 के चलते खाने के लिए भी नहीं बचे थे पैसे

    चाय विक्रेता राजकुमार कुरुक्षेत्र जिले के दयालपुर गांव के रहने वाले है और आहुवालिया चौक पर चाय बेचते है। राजकुमार की मानें तो वह चाय बेचकर ही अपने परिवार का पालन-पोषण करते है। राजकुमार बताते है कि कोरोना वायरस संक्रमण और लॉकडाउन के चलते कामधंधा चौपट हो गया। जिसके चलते घर में अब खाने के लिए पैसे नहीं है। आर्थिक स्थिति खराब होने के चलते मैंने (राजकुमार) बैंक में पर्सनल लोन लेने के लिए आवेदन किया था।

    बैंक ने लोन देने से किया इनकार

    बैंक ने लोन देने से किया इनकार

    राजकुमार के आवेदन को बैंक ने अस्वीकार कर दिया। राजकुमाकर ने बताया कि, 'बैंक ने यह कहते हुए मेरे आवेदन को अस्वीकार कर दिया कि मेरे पास पहले से ही 50 करोड़ रुपये का कर्ज है। पता नहीं यह कैसे संभव है।' राजकुमार को जब सच्चाई पता चली तो उसके होश उड़ गए। जिसके बाद राजकुमार ने बैंक से अपना सिविल रिकॉर्ड निकलवाया तो वह हैरान रह गया। बैंक के मुताबिक, उसने करीब 16 बार अलग-अलग बैंकों से करीब 50 करोड़ का लोन लिया है।

    तकनीकी खामी के कारण ऐसा हुआ होगा: लीड बैंक मैनेजर

    तकनीकी खामी के कारण ऐसा हुआ होगा: लीड बैंक मैनेजर

    अपने ऊपर करीब 51 करोड़ रुपए का लोन जानकर राजकुमार के होश उड़ गए। अब राजकुमार बेहद परेशान हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा की क्या करें। राजकुमार की मानें तो जिस भी स्तर पर लापरवाही हुई है, इससे उनकी परेशानी बढ़ गई है। चाहकर भी जरूरत के समय वह किसी बैंक से लोन नहीं ले पा रहे हैं। इस खामी को जल्द से जल्द दुरुस्त करने की मांग उसने की है। वहीं, लीड बैंक मैनेजर हरि सिंह ने बताया सिबिल में एक चाय की रेहड़ी लगाने वाले के खाते में इतना लोन दिखाना तकनीकी खामी के कारण ऐसा हुआ होगा। राजकुमार संबंधित बैंक मैनेजर से मिल कर अपना सिबिल ठीक करा सकता है।

    ये भी पढ़ें:- दुर्दांत विकास दुबे की पत्नी रिचा ने जताया न्याय प्रणाली पर भरोसा, कहा- पुलिस ने पहले किया इस्तेमाल और फिर...

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rajkumar a tea seller in Kurukshetra claims he owes Rs50 crores to banks without even taking a loan
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X