• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

किसानों के समर्थन में उतरीं खाप पंचायतें, सरकार के सहयोगी विधायक बोले- सियासत से समाज पहले

|

रोहतक। नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों द्वारा शुरू किया गया आंदोलन तेज होता जा रहा है। अब हरियाणा की खाप पंचायतें भी किसानों के समर्थन में आ गई हैं। रोहतक में कई स्थानों की खाप पंचायतों की बैठक हुई, जिसमें 30 खाप प्रधानों ने हिस्सा लिया। जिसमें उन्होंने ऐलान किया कि खाप पंचायत से जुड़े लोग और पदाधिकारी दिल्ली कूच करेंगे। सांगवान खाप के प्रधान व दादरी से निर्दलीय विधायक सोमवीर सांगवान ने तो यहां तक कहा कि, वे तन-मन-धन से अन्नदाता की मदद करेंगे। जो मांगें सरकार से की जा रही हैं, उन्हें लेकर अब आवाज उठते रहनी चाहिए।

सरकार के सहयोगी निर्दलीय विधायक बोले- समाज पहले

सरकार के सहयोगी निर्दलीय विधायक बोले- समाज पहले

विधायक सोमवीर सांगवान ने कहा कि, ''भले ही मैं आज सरकार का हिस्सा हूं, लेकिन किसान और समाज राजनीति से पहले है। हम किसानों के समर्थन में दिल्ली कूच करेंगे। हम सरकार से भी अपील करते हैं कि किसानों को संतुष्ट करके कृषि कानूनों में जो भी बदलाव करने की जरूरत है, वो किए जाएं। बकौल सोमवीर, जब किसान नए कानूनों का विरोध कर रहे हैं तो सरकार को भी इस बारे में सोचना पड़ेगा।' वहीं, पालम-खाप 360 के प्रधान रामकरण सोलंकी बोले कि, हम कृषि कानून के खिलाफ चल रहे आंदोलन को समर्थन देने के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करेंगे कि आमजन को दिक्कतें न झेलनी पड़ें। उन्होंने कहा कि, इस आंदोलन के चलते आम व्यक्ति को सामना नहीं करना पड़ेगा।'

दिल्ली कूच: हरियाणा के टिकरी बॉर्डर पर किसानों की पुलिस से भिड़ंत, आंसू गैस के गोले से कई घायल

'हर तरह से आंदोलन को समर्थन देंगे'

'हर तरह से आंदोलन को समर्थन देंगे'

नांदल खाप के प्रधान सुरेश नांदल ने कहा कि, ''जो यहां खाप पंचायत में फैसला लिया गया है वह यह है कि सभी किसानों के इस आंदोलन के साथ खड़े हैं और हर तरह से आंदोलन को समर्थन देंगे। उन्होंने दावा किया कि, हरियाणा की सभी खापें किसानों के साथ आ खड़ी हुई हैं।'' एक किसान बलवंत सिंह ने कहा कि, गांव समैण से भी किसान दिल्ली कूच करना शुरू कर रहे हैं और यहां से किसानों से भरी करीब 25 ट्रालियां जाएंगी। वहीं ,आसपास के गांवों में भी पंचायतें करके ग्रामीण दिल्ली के लिए कूच कर रहे हैं।'

हरियाणा: दिल्ली बॉर्डर वाली सड़क खुदी, लेकिन नहीं रुका किसानों का जत्था, किसान नेता चढ़ूरी बोले- अन्नदाता जाग चुका है, अब चुप नहीं बैठेगा

गांव-गांव में हो रहीं पंचायतें

गांव-गांव में हो रहीं पंचायतें

किसानों के आंदोलन में लोगों की भागीदारी बढ़ाने के लिए फतेहाबाद में भी गांव-गांव पंचायतें हो रही हैं। अलग-अलग इलाकों के ग्रामीण पंचायतें करके दिल्ली कूच का फैसला ले रहे हैं। फतेहाबाद के समैण गांव में ग्रामीणों ने एकत्रित होकर पंजाब-हरियाणा के प्रदर्शनकारियों को समर्थन का ऐलान किया। इसी तरह भीमेवाला गांव, नांगला, नांगली, बिठमड़ा सहित कई गांवों में भी दिल्ली कूच का निर्णय लिया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Many Haryana 'Khaps' decide to join agitating farmers, move to 'Delhi ghero'
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X