• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कृषि विधेयकों पर बोले CM खट्टर- किसान चाहें तो फसल खरीद MSP पर ही होगी, कृषि अदालतें बनेंगी

|

चंडीगढ़। हरियाणा में किसानों के साथ चल रही कलह के बीच सूबे के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बयान आए हैं। खट्टर ने कहा है​ कि, हमारी सरकार केंद्र के कृषि विधेयकों को फॉलो तो करेगी, लेकिन यदि किसानों को दिक्कतें आती हैं तो जरूरी प्रावधान भी करेंगे। किसानों के लिए हम आसान नीतियां बनाएंगे। कृषि अदालतें खोली जाएंगी।

कोरोना का इलाज कराकर लौटे मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि, ''किसानों को यह समझने की भी जरूरत है कि कृषि आधारित लाए गए कृषि विधेयकों के पारित होने के उपरांत, एमएसपी से ज्यादा दाम मिले तो किसान कहीं भी अपनी फसल बेच सकेंगे। हां, यदि कृषि विधेयकों के कारण किसानों को दिक्कत आती हैं तो राज्य सरकार इसमें विशेष प्रावधान करेगी।'

manohar lal khattar On 3 Modi govt agricultural ordinances, know whats he says about Haryana farmers and MSP
    Agriculture Bill 2020: Harsimrat Kaur के इस्तीफे से Dushyant Chautala पर बढ़ा दबाव | वनइंडिया हिंदी

    खट्टर ने कहा कि, ''विधेयकों का विरोध कर रहे मुट्ठी भर नेताओं खासकर कांग्रेस ने किसानों को भड़काने का काम किया है। जब कि हम किसानों करे आश्वस्त कर रहे हैं कि फसल हर हाल में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदी जाएगी। यदि किसानों को उनकी फसल के एमएसपी से ज्यादा दाम मिलते हैं तो वह कहीं भी फसल बेचने के लिए फ्री हैं।'

    कोरोना से मुक्त हो घर लौटे CM खट्टर, बोले- इस महामारी से हमें डरना नहीं, सतर्क रहना है

    कांग्रेस को चेतावनी देते हुए खट्टर आगे बोले कि, ''सरकार किसी तरह के नाजायज दबाव में नहीं आने वाली। यदि आढ़तिए या किसान को किसी तरह की कोई दिक्कत आती है तो केंद्र सरकार के कानून में अतिरिक्त प्रावधान करने का अधिकार हमारे पास है। ऐसे में चिंता नहीं करनी चाहिए। कानून की सीमा में रहते हुए हम आढ़तियों व किसानों के हित में फैसले लेने को तैयार हैं। साथ ही यह भी कह दे रहे हें कि, किसी के व्यापार और किसानों की आय पर आंच नहीं आने दी जाएगी।'

    manohar lal khattar On 3 Modi govt agricultural ordinances, know whats he says about Haryana farmers and MSP

    दूसरे राज्यों के किसानों की फसलें नहीं बिकने देंगे

    मुख्यमंत्री कार्यालय के अफसरों के साथ आॅनलाइन वार्ता में खट्टर ने कांग्रेस व भाकियू नेताओं के तमाम सवालों का जवाब दिया। वहीं, खट्टर ने ऐलान किया कि 'हरियाणा की मंडियों में दूसरे राज्य की फसल खासकर मक्का और बाजरा नहीं बिकने दिया जाएगा। हमें अपने यहां के किसानों की मक्का व बाजरे की फसल खरीद को ही प्राथमिकता देनी है।'

    बकौल खट्टर, ''एक और खास बात यह है कि, किसानों के कृषि संबंधी विवादों के निपटान के लिए हर जिले में कृषि अदालतें खुलवाई जाएंगी। इन अदालतों में योग्य अधिकारी तैनात किए जाएंगे, ताकि किसानों से जुड़े मामले तेजी से निपट सकें।'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    manohar lal khattar On 3 Modi govt agricultural Bills, know whats he says about Haryana farmers and MSP
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X