• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

स्वास्थ्य मंत्री विज बोले- हरियाणा-दिल्ली सीमा पर किसानों का बड़ा जमावड़ा, मुझे उन्हें भी कोरोना से बचाना है

|

अंबाला। हरियाणा के स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि, किसान आंदोलन का हल निकालने के लिए वे केंद्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखेंगे। विज ने कहा, "आज हरियाणा के बॉर्डर पर किसानों का इतना बड़ा जमावड़ा लगा हुआ है, जो चिंता बढ़ा रहा है। कोरोना बहुत तेज़ी से फैल रहा है। कोरोना से मुझे उनको (किसानों) भी बचाना है। इसलिए मैं केंद्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखने वाला हूं कि बातचीत का सिलसिला दोबारा शुरू किया जा सके।"

Haryana Health Minister Anil Vij On farmers protest and coronavirus pandemic

स्वास्थ्य ​मंत्री ​विज से पहले भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के प्रवक्‍ता राकेश टिकैत ने भी कोरोना को लेकर किसानों की ओर से बयान दिया। हरियाणा के यमुनानगर पहुंचे टिकैत ने कहा कि, प्रदर्शनकारी किसान कोरोना के नियमों का पालन करेंगे। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि, किसानों से कोरोना नहीं फैल रहा। आंदोलन कब तक चलेगा, इस पर उन्होंने कहा कि, हम जरूरत पड़ने पर 2023 तक आंदोलन जारी रखेंगे। इससे पहले टिकैत ने गुजरात में कहा था कि, मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानून किसानों के लिए नुकसानदेह हैं। ये काले कानून हैं। ​जिनकी वजह से किसानों की जमीनें छीनी जा रही हैं।

news

राकेश टिकैत बोले- किसानों से शाहीन बाग जैसा सलूक न करे सरकार, आप कॉल तो करो, हमें है इंतजार

राकेश टिकैत ने यह भी कहा, "सरकार किसानों से शाहीन बाग जैसा सलूक न करे। किसान तीनों कानून रद्द होने के बाद ही अपने-अपने घर जाएंगे। बेहतर होगा कि सरकार बातचीत करे। हमें कॉल का इंतजार है।' ऐसे में अब गृहमंत्री अनिल विज का बातचीत शुरू करने संबंधी बयान इसी संदर्भ में देखा जा रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Haryana Health Minister Anil Vij On farmers protest and coronavirus pandemic
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X