• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरियाणा उद्यम-रोजगार नीति में बड़ा बदलाव, MSME के लिए 15 दिन में मिलेंगी सभी स्वीकृतियां

|

चंडीगढ़। मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर की अगुवाई में राज्य सरकार ने हरियाणा उद्यम एवं रोजगार नीति में बदलाव किया है। जिसके अनुसार, अब सूबे के अंदर सूक्ष्म-लघु व मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) के लिए सरकार 15 दिनों के भीतर सभी स्वीकृतियां दे देगी। लोगों को यह भी फायदा होगा कि, एमएसएमई सेक्टर के उद्योगों के लिए आवेदन करने के तत्काल बाद उन पर काम शुरू होगा। इतना ही नहीं, देरी करने वाले विभागों के अधिकारी जवाबदेह होंगे।

HARYANA ENTERPRISES AND EMPLOYMENT POLICY, 2020 amendment by khattar get, know its benefits

नीति में हुए बदलावों के बाद अब यदि मंजूरी देने में देरी हुई तो विभागों के अधिकारियों को कारण भी बताना होगा। गौरतलब है कि, 2020 के अंत में ही सरकार ने इस नीति का ऐलान किया था। जिसके बाद बीते रोज मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नीति में बदलाव करने की मंजूरी दे दी। सरकार के एक प्रवक्ता द्वारा कहा गया कि, हरियाणा में एमएसएमई उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए यह संशोधन किया है।

हरियाणा सरकार ने सरकारी पीजीटी अध्यापकों की नियुक्ति वाले आवेदन की तारीख 4 मार्च तक बढ़ाई

HARYANA ENTERPRISES AND EMPLOYMENT POLICY, 2020 amendment by khattar get, know its benefits

राज्य सरकार द्वारा छोटे उद्योगपतियों को एक और बड़ी राहत दी गई। इसके तहत व्यवसाय शुरू होने के बाद अगले 3 सालों तक किसी भी तरह की तांक-झांक सूक्ष्म-लघु एवं मध्यम उद्योग में नहीं होगी।

हरियाणा: अनाज आपूर्ति में गड़बड़ी करने वालों पर कार्रवाई होगी, विभाग ने 7 दिन के भीतर मांगी रिपोर्ट

हरियाणा के सभी जिलों में बनवाए जाएंगे भाजपा के आधुनिक कार्यालय, कई जिलों में तैयार हो भी गए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
HARYANA ENTERPRISES AND EMPLOYMENT POLICY, 2020 amendment by khattar govt, know its benefits
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X