• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरियाणा सरकार गरीबों को दे रही 5 हजार रु. चिकित्सा सहायता राशि, इस तरीके से सीधे खाते में मिलेगी

|

चंडीगढ़। कोरोना महामारी के इन दिनों हरियाणा सरकार गरीबों को 5 हजार रु. चिकित्सा सहायता राशि दे रही है। इसकी जानकारी हरियाणा के गृह एंव स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने दी। विज ने कहा कि राज्य में वे मरीज जो गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे हैं और होम आइसोलेशन में हैं, उनको 5000 रुपये की एकमुश्त राशि चिकित्सा सहायता के रूप में दी जाएगी। यह राशि सीधे मरीजों के बैंक खाते में भेजी जाएगी। रकम प्राप्त करने के लिए लाभार्थी मरीजों का परिवार पहचान पत्र होना जरूरी है।

 Haryana government is giving Medical assistance of 5 thousand rupees to the poor covid patients, they will be directly received in account

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि निजी अस्पतालों को ऐसे मरीजों की जानकारी https://gmdahrheal.in/ पर अपलोड करनी होगी। उन्होंने कहा कि, प्रदेश में कोविड संबंधी सहायता के लिये 8558893911 हेल्पलाईन नम्बर जारी किया गया है। इसके अलावा, गुरुग्राम व फरीदाबाद को छोडकऱ, कोविड की जानकारी के लिये 1075 हेल्पलाईन नम्बर भी जारी किया गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, प्रदेश सरकार मरीजों की आरोग्यता के लिए कटिबद्ध है। विज बोले- ''हमारी सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में लोगों को इस महामारी से बचाने के लिये हर सम्भव प्रयास कर रही है।''

 Haryana government is giving Medical assistance of 5 thousand rupees to the poor covid patients, they will be directly received in account

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ''सरकार की इस एक अन्य नई पहल के तहत प्रदेश के ऐसे कोविड मरीज, जो गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे हैं व आयुष्मान भारत योजना के तहत सुविधा प्राप्त नहीं कर रहे हैं, को राज्य सरकार द्वारा कोविड उपचार हेतु अधिकृत निजी अस्पतालों में इलाज के लिए रोजाना प्रति मरीज 5000 रुपये की सब्सिडी देने का निर्णय लिया गया है जोकि अधिकतम 35 हजार रुपये प्रति मरीज होगी और यह राशि मरीज के डिस्चार्ज होने के समय बिल से घटा दी जायेगी। मंत्री ने यह भी कहा कि, कोविड के इलाज के लिये राज्य सरकार द्वारा अधिकृत निजी अस्पतालों में राज्य के उपचाराधीन मरीजों के लिये प्रतिदिन प्रति मरीज एक हजार रुपये व अधिकतम 7 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि निर्धारित की गई है और यह राशि मरीज के डिस्चार्ज होने के बाद अस्पतालों के बैंक खातों में भेजी जायेगी।

बुजुर्गों को उनके घरों से वैक्सीन सेंटर ले जाकर दी जा रहीं खुराकें, फिर वापस भी छोड़ रही ये टीमबुजुर्गों को उनके घरों से वैक्सीन सेंटर ले जाकर दी जा रहीं खुराकें, फिर वापस भी छोड़ रही ये टीम

विज ने कहा कि, महामारी के दौरान जहां प्रदेश सरकार लोगों के जीवन की रक्षा के लिये कार्य कर रही है, वहीं सामाजिक संस्थाएं भी आगे आकर इस कार्य में अपनी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जारी की गई आवश्यक हिदायतों का पालन करते हुए स्वंय सुरक्षित रहें तथा दूसरों के जीवन को भी सुरक्षित रखने का काम करें।

उन्होंने कहा कि, लोगों ने पहले भी कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने में अपनी महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा की थी, वे उसी प्रकार निरंतरता में इस बार भी अपना सम्पूर्ण सहयोग दें।

English summary
Haryana government is giving Medical assistance of 5 thousand rupees to the poor covid patients, they will be directly received in account
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X